Amrit Bharat Station Yojana:अमृत ​​भारत स्टेशन योजना

Amrit Bharat Station Yojana
Contents hide
2 UP Pardarshi Kisan Seva Yojana 2024:केसे मिलेगा किसान पंजीकरण प्रक्रिया लाभ जानेHaryana Mukhyamantri Matritva Sahayata Yojana 2024:आवेदन कैसे करें, लाभ व पात्रताPM Awas Yojana List 2024:रु 2.5 लाख प्राप्त करें? नयेआवेदन शुरूRajasthan Kanya shadi sahyog Yojana 2024: ऑनलाइन आवेदन रजिस्ट्रेशन फॉर्म पात्रता, जानें पूरी जानकारी

Amrit Bharat Station Yojana:अमृत ​​भारत स्टेशन योजना,यात्रियों को मिलेगी ये नई सुविधाएं भारत के 508 रेलवे स्टेशनों की बदलेगी तस्वीर

“Amrit Bharat Station Yojana, जिसके माध्यम से भारतीय रेलवे स्टेशनों को आधुनिकीकरण के लिए सुधारा जाएगा, यह योजना भारतीय रेलवे की सुविधाएं बेहतर बनाने के लिए आरंभ की गई है। रोज़मर्रा की यात्रा करने वाले लाखों लोगों की आवश्यकताओं को ध्यान में रखते हुए, इस योजना के तहत लगभग 1000 छोटे रेलवे स्टेशनों का आधुनिकीकरण किया जाएगा। यह योजना देशभर में दृढ़ और सामर्थ्यपूर्ण स्टेशनों का निर्माण करके यात्रीगण को सुरक्षित और आरामदायक यात्रा का अनुभव करने का उद्देश्य रखती है। इसके साथ ही, यह योजना दीर्घकालिक मास्टर प्लान के अंतर्गत स्टेशनों के विकास की परिकल्पना करती है और महत्वपूर्ण कार्यों का निर्देशन करने के लिए तैयार की गई है। आइए, हम इस आर्टिकल के माध्यम से Amrit Bharat Station Yojana 2023 के बारे में और अधिक जानकारी प्राप्त करते हैं।

Amrit Bharat Station Yojana क्या है ?

अमृत भारत स्टेशन योजना 2023 द्वारा भारतीय रेलवे बोर्ड ने देशभर के रेलवे स्टेशनों का आधुनिकीकरण करने का निर्णय लिया है। इस योजना के तहत लगभग 1000 से भी अधिक महत्वपूर्ण छोटे रेलवे स्टेशनों को आधुनिकीकृत किया जाएगा। इसके अलावा, उड़ीसा के खुर्दा रेलवे स्टेशन को भी इस योजना के तहत विकसित किया जाएगा। उड़ीसा के कोटा रेलवे स्टेशन को विकसित करने के लिए रेलवे बोर्ड ने करीब 4 करोड़ रुपए का बजट निर्धारित किया है।

अमृत भारत स्टेशन योजना 2023 के तहत देश के 68 मंडलों में स्थित सभी 15 स्टेशनों का विकास किया जाएगा। इस योजना के अंतर्गत, किसी भी स्टेशन का नवीनीकरण कार्य को कम से कम 2 साल के अंदर पूरा किया जाएगा। यह योजना भारतीय रेल और सभी महत्वपूर्ण पहलुओं को और बेहतर बनाने का प्रयास करेगी, ताकि आम नागरिकों को किसी भी परेशानी का सामना नहीं करना पड़े।

6 अगस्त को अपडेट:- पीएम ने अमृत भारत स्टेशन योजना लॉन्च की

रविवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने वीडियो कांफ्रेंस के माध्यम से अमृत भारत स्टेशन योजना को लॉन्च किया। प्रधानमंत्री ने इस योजना के तहत पूरे भारत में 508 रेलवे स्टेशनों के पुनर्विकास की आधारशिला रखी। अमृत भारतीय स्टेशन योजना के तहत सोनभद्र जिले के चोपन और रेणुकूट रेलवे स्टेशनों पर होने वाले कार्यों का शिलान्यास हुआ। इन दोनों स्टेशनों को 62.60 करोड़ रुपए से संवारा जाएगा। प्रधानमंत्री ने कहा कि इन स्टेशनों पर स्थानीय विरासत और कला संस्कृति की झलक दिखेगी। अमृत भारत योजना के तहत हर स्टेशन पर प्राचीन विरासत को संजोया जाएगा। इस योजना के तहत चोपन रेलवे स्टेशन पर 30.90 करोड़ और रेणुकूट में 31.70 करोड़ रुपए खर्च होंगे। इस धनराशि के माध्यम से दोनों स्टेशन पर अलग-अलग प्रवेश व निकास द्वार, एस्केलेटर, लिफ्ट, एक्जीक्यूटिव लाउंज, वेटिंग एरिया, दिव्यांगजन अनुकूल सुविधाएं सहित कार्यकलाप के अन्य कार्य संपन्न होंगे।

Amrit Bharat Station Yojana का उद्देश्य

अमृत भारत स्टेशन योजना के तहत भारतीय रेलवे विभाग का मुख्य उद्देश्य है देश के 1000 छोटे और महत्वपूर्ण स्टेशनों का आधुनिकीकरण करना, ताकि स्टेशनों की सुविधा में वृद्धि हो सके। इसके अंतर्गत सभी रेलवे स्टेशनों पर सिटी सेंटर और रूफ प्लाजा का निर्माण किया जाएगा। दिव्यांग नागरिकों के लिए स्टेशनों के नवीनीकरण में विशेष सुविधाएं भी होंगी। यह योजना से देशभर में स्टेशनों की नवीनीकरण की सुविधा के साथ ही पुरानी सुविधाओं को भी बेहतर बनाया जाएगा। इसके अलावा, विभिन्न प्रकार की सुविधाएं रेलवे द्वारा उपलब्ध कराई जाएंगी, और देश के 1000 रेलवे स्टेशनों पर उच्च कोटि का निर्माण किया जाएगा।

Amrit Bharat Station Yojana के बारे में जानकारी

योजना का नाम Amrit Bharat Station Scheme
आरंभ की गई भारतीय रेलवे बोर्ड द्वारा
लाभार्थी रेलवे में सफर करने वाले नागरिक
उद्देश्य छोटे रेलवे स्टेशनों का नवीनीकरण और उनका आधुनिकरण करना
आधुनिकीकरण किया जाएगा 1000 से अधिक छोटे स्टेशनों
श्रेणी केंद्रीय सरकारी योजना
लाभ रेलवे में सफर करने वाले नागरिकों को उच्चतम सुविधा
साल

अधिकारी वेबसाइट

2023

https://ncr.indianrailways.gov.in/

 

इन योजना के बारे में भी जाने 

Amrit Bharat Station Yojana के तहत बड़े होल्डिंग का होगा निर्माण

अमृत भारत स्टेशन योजना के माध्यम से भारतीय रेलवे बोर्ड द्वारा देश के सभी नागरिकों को ट्रेनों की सही जानकारी प्रदान करने के लिए और इस योजना के कार्य को भलीभांति पूरा करने के लिए, रेलवे बोर्ड द्वारा बड़े-बड़े होल्डिंग्स का निर्माण महत्वपूर्ण स्थानों पर किया जाएगा। होल्डिंग का निर्माण होने से किसी भी नागरिक को रेलवे का टाइम और अन्य जानकारी प्राप्त करने के लिए किसी से नहीं पूछना पड़ेगा। भारतीय रेलवे बोर्ड द्वारा अमृत भारत स्टेशन योजना के तहत विकसित किए जाने वाले होल्डिंग का आकार लगभग 10 से 20 मीटर होगा, जिससे देखने में नागरिकों को आसानी होगी।

Amrit Bharat Station Yojana में किन–किन चीजों का किया जाएगा नवीनीकरण

आपने उच्च गुणवत्ता वाले और सुरक्षित रेलवे स्टेशनों के निर्माण के लिए एक बहुत अच्छी योजना का वर्णन किया है, जिससे यात्रियों को स्टेशन पर अच्छे सुविधाएं और आत्मीयता का माहौल मिलेगा। इस योजना के माध्यम से स्थानीय कला और संस्कृति का सही तरीके से प्रचार-प्रसार करना भी अच्छा है।

अमृत भारत स्टेशन योजना के कुछ मुख्य लाभ निम्नलिखित हो सकते हैं:

  1. यात्रियों के लिए उत्तम सुविधा: इस योजना के अंतर्गत निर्मित स्थानों पर यात्रियों के लिए बेहतर सुविधाएं होंगी, जिससे उन्हें आत्मीयता मिलेगी और उनका अनुकूल अनुभव होगा।
  2. स्थानीय समृद्धि: यह योजना स्थानीय कला और संस्कृति को प्रोत्साहित करने के लिए हरे पेच स्थानीय कला का उपयोग करने का अवसर प्रदान करेगी, जिससे स्थानीय आत्मनिर्भरता बढ़ेगी।
  3. अवांछित संरचनाओं का हटाया जाना: इसके माध्यम से अवांछित और असुरक्षित संरचनाओं को हटाया जाएगा, जिससे स्थान सुरक्षित और स्वच्छ बनेगा।
  4. पैदल मार्ग और सड़क का विकास: पैदल मार्गों का विकास और सड़कों को चौड़ा करना स्थानीय यातायात को बेहतर बनाएगा और लोगों को अधिक सुरक्षित बनाएगा।
  5. आधुनिकरण और पार्किंग: योजना के अंतर्गत स्थानों को आधुनिक बनाने और पार्किंग सुविधाओं को बढ़ाने से स्थान सुरक्षित और अधिक आकर्षक होगा।

इस योजना के माध्यम से समृद्धि, सुरक्षा, और सामरिक संरचना में सुधार होने की उम्मीद है, जो एक बेहतर भविष्य की दिशा में कदम बढ़ाएगा।

Amrit Bharat Station Yojana महिलाओं और दिव्यांगों के लिए विशेष सुविधा का प्रावधान

यह बहुत ही महत्वपूर्ण है कि अमृत भारत स्टेशन योजना में महिलाओं और दिव्यांग जनों के लिए विशेष सुविधाएं शामिल की जा रही हैं। इससे समाज में सामाजिक समानता और इंक्लूजन को प्रोत्साहित किया जा रहा है।

  1. शौचालय सुविधा: महिलाओं और दिव्यांग जनों के लिए स्टेशनों पर पर्याप्त संख्या में शौचालय बनाए जाना एक सकारात्मक कदम है। यह सुनिश्चित करेगा कि वे सुरक्षित और स्वच्छ स्थानों पर यात्रा कर सकती हैं।
  2. आसानी से दिखाई देने वाले स्थान पर शौचालय: शौचालय को ऐसे स्थान पर विकसित किया जाएगा जहां महिलाएं और दिव्यांग जन उन्हें आसानी से पहचान सकें। इससे उन्हें अधिक सुरक्षित और स्वतंत्र महसूस होगा।
  3. सशक्तिकरण के लिए अनुसंधान और शिक्षा: योजना के तहत महिलाओं और दिव्यांग जनों को समाज में सशक्तिकरण के लिए अनुसंधान और शिक्षा की सुविधा भी प्रदान की जा सकती है। इससे उन्हें नौकरी, उद्यमिता, और आत्मनिर्भरता की ओर एक कदम बढ़ाने में मदद मिलेगी।
  4. दिव्यांग जनों के लिए सुरक्षा और सुविधा: स्टेशनों पर दिव्यांग यात्रीगण के लिए आदर्श सुरक्षा और सुविधा उपायों का निर्माण किया जाएगा, जिससे उन्हें यात्रा के दौरान सहायता मिलेगी।

इस तरह की सुविधाएं न केवल समाज में सामाजिक समानता को बढ़ावा देंगी, बल्कि समृद्धि और सहायता के साथ महिलाओं और दिव्यांग जनों को समाज में बेहतरीन से जुड़ने का मौका देगी।

Amrit Bharat Station Yojana में सभी नागरिक स्टेशन के वेटिंग रूम में मीटिंग कर सकेंगे

इस योजना के अंतर्गत, यात्रीगण को उच्च प्राथमिकता संबंधी गतिविधियां प्रदान की जाएगी, जो स्टेशनों को एक नए और सुधारित दृष्टिकोण से तैयार करेगी। सभी यात्रीगण के लिए स्थानों के नवीनीकरण में, प्रतीक्षा कक्ष के साथ अच्छे कैफिटेरिया की सुविधा होगी, जिससे उन्हें यात्रा के दौरान आरामदायक और सुरक्षित वातावरण मिलेगा। छोटे-छोटे विभाजनों में प्रतीक्षा कक्षों को वर्गीकृत करके, योजना सुनिश्चित करेगी कि यात्रीगण को सुविधाजनक तरीके से स्थानीय यात्रा का आनंद लेने में सहायता होगी। इसके साथ ही, रेलवे स्टेशनों पर कार्यरत कर्मचारियों के लिए भी लाउंच और छोटी व्यवसायिक बैठकों के लिए स्थान प्रदान करने से, उन्हें भी एक सकारात्मक और आरामदायक कार्यालय मिलेगा।

Amrit Bharat Station Yojana किन राज्यों में कितने रेलवे स्टेशनों का होगा नवीनीकरण

Amrit Bharat Station Yojana के अंतर्गत, पहले चरण में बिहार के 49 रेलवे स्टेशन, महाराष्ट्र के 44 स्थान, पश्चिम बंगाल के 37, मध्यप्रदेश के 34 स्थान, असम के 32, उड़ीसा के 25, पंजाब के 22, तमिलनाडु और गुजरात के 21 और 21 स्थान, झारखंड के 20, हरियाणा के 15, कर्नाटका के 13 स्थान, चंडीगढ़ के 8 स्थान, केरल के 5 स्थान, और दिल्ली, त्रिपुरा, उत्तराखंड, और जम्मू एंड कश्मीर के 3-3 स्थान, तमिलनाडु और आंध्र प्रदेश के 18-18 स्थानों के साथ मेघालय, हिमाचल प्रदेश, पुडुचेरी, और नागालैंड के 1-1 स्थान को अपग्रेड किया जाएगा। यह स्थानीय रेलवे स्टेशनों को एक नए और सुधारित स्तर पर ले जाने का प्रयास है ताकि यात्रीगण को बेहतर सुविधाएं मिल सकें और रेलवे इंफ्रास्ट्रक्चर को मोडर्न बनाए जाएं।

Amrit Bharat Station Yojana में रेलवे स्टेशन में होने वाले बदलाव |

“रेलवे स्टेशन का नया स्वरूप: सुधार और सुविधा की दिशा में कदम”

रेलवे स्टेशनों को मॉडर्न और यात्रा के लिए अधिक सुविधाजनक बनाने के लिए एक नई पहल के रूप में, इस प्लान में बड़े होर्डिंग का निर्माण एक महत्वपूर्ण कदम है।

नए भवनों का निर्माण और पैदल मार्गों की बनावट से यात्रीगण को एक सुरक्षित और सुविधाजनक रूप में स्थानीय यात्रा का आनंद लेने में सहायक होगा।

Amrit Bharat Station Yojana में  सड़कों को चौड़ा करना और आधुनिकीकरण से पार्किंग क्षेत्रों का निर्माण एक और पहलु है जो स्थानीय वाहन सेवाओं को बेहतर बनाए रखेगा।

वेटिंग रूम का नवीनीकरण, निशुल्क वाई-फाई सुविधा, और पर्याप्त संख्या में शौचालयों का निर्माण यात्रीगण को सुविधाजनक और स्वच्छ स्थान प्रदान करने के लिए किया जाएगा।

इस प्रकार, यह स्थानीय समृद्धि और आधुनिकीकरण की दिशा में एक महत्वपूर्ण कदम है।

Amrit Bharat Station Yojana के मुख्य बिंदु

अमृत भारत स्टेशन योजना: रेलवे स्टेशनों का नया दौर

  • इस योजना के माध्यम से, भारतीय रेलवे बोर्ड ने स्टेशनों को नए और मॉडर्न दौर में ले जाने के लिए कई महत्वपूर्ण पहलुओं का विकास करने का निर्णय लिया है। इसमें टॉप प्लाजा, लंबे प्लेटफार्म, 5G कनेक्टिविटी, और गिट्टी रहित ट्रैक जैसी सुविधाएं शामिल होंगी।
  • सभी पुनर्विकसित परियोजनाएं इस योजना के तहत शामिल की जाएंगी, विशेषकर उन क्षेत्रों में जहां अब तक कोई कार्य नहीं हुआ है।
  • योजना के माध्यम से, सभी रेलवे स्टेशनों को विकसित करने हेतु मास्टर प्लान तैयार किए जाएंगे, जिसमें सुविधाओं में वृद्धि करने के लिए मास्टरप्लेन का क्रियान्वयन निर्धारित नियमों के माध्यम से कार्रवाई की जाएगी। यह पहल न केवल स्टेशनों की मॉडर्नीकरण को पुष्टि करती है, बल्कि साथ ही यात्रीगण को एक उच्च स्तर की सुविधा प्रदान करने का लक्ष्य रखती है।
  • Amrit Bharat Station Yojana को संचालित करने के लिए रेलवे के वरिष्ठ अधिकारियों की एक समिति द्वारा अनुमोदित स्टेशनों के चयन की जिम्मेदारी रेलवे को सौंपी जाएगी।
  • इस समिति का कार्य हितधारकों की सुरक्षा और सुविधा के मामले में सुनिश्चित करना होगा, ताकि चयन किए गए स्टेशन योजना के लक्ष्यों के साथ संगत हों।
  • इस योजना के परिणामस्वरूप, इनपुट और हितधारकों के साथ साक्षर विमोचन के लिए समृद्धि को बढ़ावा मिलेगा। समिति इन इनपुट कारकों का विश्लेषण करेगी और सुझाव देगी जो स्थानीय योजनाओं को सफलता की दिशा में बढ़ावा देने में मदद करेंगे।
  • भारतीय रेलवे बोर्ड द्वारा तैयार की गई Amrit Bharat Station न्यू सन 2023 की योजना, लगते कम होने के साथ-साथ पुरानी इमारतों को स्थानांतरित करने के माध्यम से संपन्न करने की योजना बना रही है। इससे यात्रीगण को बेहतर सुविधाएं प्रदान करने का उद्देश्य है और साथ ही स्थानीय समृद्धि को बढ़ावा देने का प्रयास किया जा रहा है।

Amrit Bharat Station Yojana के लाभ एवं विशेषताएं

  • Amrit Bharat Station Yojana भारतीय रेलवे बोर्ड द्वारा लागू की गई है
  • जिसका उद्देश्य देश के छोटे और महत्वपूर्ण स्टेशनों को सुधारना है।
  • इस योजना के तहत सभी रेलवे स्टेशनों पर रूफ प्लाजा और सिटी सेंटरों को स्थापित किया जाएगा, जो नागरिकों को आरामदायक और सुरक्षित स्थान प्रदान करेंगे।
  • इस योजना के अंतर्गत देश के 1000 से अधिक छोटे स्टेशनों का आधुनिकीकरण किया जाएगा, जिससे यात्रीगण को बेहतर सुविधाएं मिलेंगी।
  • Amrit Bharat Station Yojana में 68 मंडलों में से सभी 15 स्टेशनों का नवीनीकरण होगा
  • Stationo को नवीनीकरण के कार्य में कम से कम 2 साल के अंदर पूरा किया जाएगा।
  • नागरिकों को स्थानीय कला और संस्कृति से मिलने वाला एक अद्वितीय अनुभव होगा, जिससे स्टेशन पर ठहरना और यात्रा करना और भी रूचिकर बनेगा।
  • Amrit Bharat Station Yojana के अंतर्गत रेलवे स्टेशन के रोड को चौड़ा करने का कार्य होगा, ताकि यात्रियों को सुरक्षित और आरामदायक चलने का सामान्य स्थान मिले।
  • इस योजना के तहत यात्रीगण को सुविधाजनक पार्किंग की सुविधा प्रदान की जाएगी और प्रकाश की व्यवस्था होगी, जो उन्हें सुरक्षित बनाए रखने में मदद करेगा। निशुल्क वाईफाई की सुविधा से यात्रीगण को इंटरनेट का मुफ्त उपयोग करने का आनंद मिलेगा।
  • इसके साथ ही, Amrit Bharat Station Yojana के अंतर्गत पर्याप्त संख्या में शौचालयों का निर्माण किया जाएगा, ताकि यात्रीगण को सुरक्षित और स्वच्छ स्थान प्रदान किया जा सके।
  • इसके अलावा, यात्रीगण के लिए वेटिंग रूम का नवीनीकरण भी किया जाएगा, जिससे उन्हें ठहरने के लिए एक आरामदायक स्थान मिलेगा।
  • इसके साथ ही, पैदल मार्गों का निर्माण कर यात्रीगण को सुरक्षित रूप से अपने स्थानीय लक्ष्यों तक पहुंचने का अवसर मिलेगा।

सारांश (Summay)

तो दोस्तों, हमने आपको इस आर्टिकल के माध्यम से बताया कि कैसे आप (Amrit Bharat Station Yojana:अमृत ​​भारत स्टेशन योजना) की सभी जानकारी को विस्तार पूर्वक बता दिया है।यदि आपको जानकारी पसंद आई हो तो आप हमें मैसेज करके बता सकते हैं और इसके अलावा यदि आपको कोई भी समस्या या योजना से जुड़े सवालों के जवाब जानने हैं तो आप हमें कमेंट बॉक्स में कमेंट करके बता सकते हैं।हमारी टीम आपके सभी सवालों का जवाब देने की कोशिश जरूर करेगी।

ध्यान दें :– ऐसे ही केंद्र सरकार और राज्य सरकार के द्वारा शुरू की गई नई या पुरानी सरकारी योजनाओं की जानकारी हम सबसे पहले अपने इस वेबसाइट सरकारी योजनाये के माध्यम से देते हैं तो आप हमारे वेबसाइट को फॉलो करना ना भूलें ।

अगर आपको हमारा यह आर्टिकल पसंद आया है तो इसे Like और Share जरूर करें ।

Amrit Bharat Station Yojana से जुड़े प्रश्नोत्तर-

अमृत भारत स्टेशन योजना क्या है?

इस योजना के तहत, देश के 1000 से अधिक पुराने रेलवे स्टेशनों का नवीनीकरण होगा। इन स्टेशनों को नए तकनीकी और सुरक्षा मानकों के साथ मॉडर्न सुविधाएं प्रदान करने का प्रयास किया जाएगा।
Amrit Bharat Station Yojana के अंतर्गत यात्रियों को किस प्रकार की सुविधा प्रदान की जाएगी?
इस योजना के अंतर्गत, रेलवे स्टेशनों पर निम्नलिखित सुविधाएं प्रदान की जाएंगी
1. फ्री WiFi सुविधा
2. टिकाऊ फर्नीचर की सुविधा
3. प्रतीक्षालय कक्ष
4. वेटिंग रूम
5. सड़कों का विकास
6. पार्किंग सुविधा
7. विश्राम कक्ष
Amrit Bharat Station Yojana योजना कब शुरू हुई?
अमृत भारत स्टेशन स्कीम फरवरी 2023 में लॉन्च की गई थी, जिसमें 1309 स्टेशनों का रीडेवलपमेंट किया जा रहा है। इस स्कीम के तहत स्टेशनों को आधुनिक बनाया जा रहा है, यात्री सुविधाओं को बढ़ावा दिया जा रहा है, यात्री मैनेजमेंट को सुधारा जा रहा है, और बेहतर साइन सिस्टम लागू किया जा रहा है।
अमृत ​​भारत में कितने स्टेशन हैं?
सोनपुर और समस्तीपुर मंडलों सहित अमृत भारत स्टेशन योजना के तहत लिए जाने वाले 1275 स्टेशनों की सूची संलग्न है
Amrit Bharat Station Yojana के तहत यूपी में कितने स्टेशन हैं?
अमृत भारत स्टेशन योजना के तहत उत्तर प्रदेश के 55 स्टेशनों को पुनरुद्धार और कायाकल्प के लिए चयन किया जाना बहुत ही महत्वपूर्ण है। इस योजना के माध्यम से रेलवे स्टेशनों को सुधारा जाएगा और यात्रीगण को बेहतर सुविधाएं प्रदान की जाएंगी। 6 अगस्त को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा 508 रेलवे स्टेशनों के पुनर्विकास की आधारशिला रखी जाने के साथ ही इस परियोजना की महत्वपूर्ण शुरुआत हो गई है।

Leave a Reply