Rajasthan Diggi Anudan Yojana:राजस्थान डिग्गी अनुदान योजना

Rajasthan Diggi Anudan Yojana
Contents hide
1 Rajasthan Diggi Anudan Yojana:राजस्थान डिग्गी अनुदान योजना ऑनलाइन आवेदन,पात्रता,लाभ

Rajasthan Diggi Anudan Yojana:राजस्थान डिग्गी अनुदान योजना ऑनलाइन आवेदन,पात्रता,लाभ

Rajasthan Diggi Anudan Yojana किसानों को सही सुविधाओं और समर्थन के साथ खेती करने में किसी भी प्रकार की प्रॉब्लम न होना राजस्थान सरकार के लिए प्राथमिकता है। कृषि क्षेत्र के विकास के लिए जल हमारे देश के अन्नदाताओं के लिए महत्वपूर्ण है। हालांकि, विभिन्न राज्यों में पानी की कमी के कारण किसानों को खेती करने में समस्याएं उत्पन्न हो रही हैं। राजस्थान भी ऐसा राज्य है जहाँ सूखा से जूझना हर साल किसानों के लिए चुनौतीपूर्ण है।

समस्याओं का समाधान करते हुए, राजस्थान सरकार ने किसानों को सहारा प्रदान करने के लिए राजस्थान डिग्गी अनुदान योजना की शुरुआत की है। Rajasthan Diggi Anudan Yojana के अंतर्गत, किसानों को खेतों में डिग्गी बनाने के लिए सब्सिडी प्रदान की जाती है, जिससे उन्हें अधिक उत्पादक बनने में मदद मिलती है।

Rajasthan Diggi Anudan Yojana के माध्यम से, किसानों को डिग्गी बनाने पर 75 से 80% की सब्सिडी प्रदान की जाती है, जिससे उन्हें आर्थिक सहायता मिलती है। यह योजना किसानों को सुरक्षित और सुगम जल सिंचाई की सुविधा प्रदान करके उनकी आर्थिक स्थिति में सुधार करने का एक प्रमुख कदम है।

इस तरह, राजस्थान सरकार ने किसानों को सूखा और पानी की कमी की समस्या से निपटने के लिए एक प्रभावी योजना को शुरू किया है, जिससे वे बेहतर तरीके से खेती कर सकें और उन्हें आर्थिक समृद्धि की दिशा में मदद मिले।यदि आप भी राजस्थान के किसान हैं और अपने खेतों में सिंचाई करने के लिए खुदाई करना चाहते हैं तो आप Rajasthan Diggi Anudan Yojana के तहत आवेदन कर सकते हैं और अनुदान राशि प्राप्त कर सकते हैं। आज हम आपको इस लेख के माध्यम से राजस्थान डिग्गी अनुदान योजना 2023 से संबंधित जानकारी प्रदान करेंगे। अधिक जानकारी के लिए आपको आर्टिकल को अंत तक विस्तार से पढ़ना होगा।

Rajasthan Diggi Anudan Yojana क्या है ?

राजस्थान डिग्गी अनुदान योजना के माध्यम से सरकार ने किसानों को खेत में सिंचाई के लिए डिग्गी बनाने के लिए वित्तीय सहायता प्रदान करने का प्रयास किया है। इस योजना के अंतर्गत, किसानों को डिग्गी बनाने में 75% से 85% तक की सब्सिडी दी जाएगी, जिससे उन्हें सिंचाई के लिए ज्यादा जमीन उपयोग करने का अवसर मिलेगा।

इस योजना के तहत, छोटे सीमांत किसानों को 75% सब्सिडी या 3 लाख 40 हजार रुपए का अनुदान दिया जाएगा। सामान्य वर्ग के किसानों को भी उनकी लागत का 75% सब्सिडी या 3 लाख रुपए का अनुदान प्रदान किया जाएगा।

Rajasthan Diggi Anudan Yojana के तहत, किसानों को सिंचाई के लिए पानी के खर्च से बचाने का एक अच्छा अवसर मिलेगा और उनकी जमीन फिर से खेती के लायक बन सकेगी। यह स्वयं पूंजी लगाने की प्रक्रिया के साथ आता है और डिग्गी तैयार होने के 30 दिनों के भीतर आवेदन किया जा सकता है।

 

Rajasthan Diggi Anudan Yojana उद्देश्य

“राजस्थान सरकार द्वारा शुरू की गई डिग्गी अनुदान योजना का मुख्य उद्देश्य राज्य के नहरी क्षेत्र में डिग्गी का निर्माण कर सिंचाई सुविधा को बढ़ावा देना है। इस योजना के माध्यम से किसानों को खेत में अधिक जमीन पर सिंचाई करने हेतु डिग्गी बनाने के लिए आर्थिक सहायता प्रदान की जाएगी। Rajasthan Diggi Anudan Yojana राजस्थान के कई जिलों में लागू हो रही है, जहां नहर के पानी से किसान सिंचाई करते हैं, लेकिन इसकी मात्रा सही नहीं होती है और कई बार पानी की कमी से भूमि बंजर रह जाती है।

Rajasthan Diggi Anudan Yojana के तहत, किसानों को डिग्गी बनाने के लिए सरकार द्वारा 75 से 85 प्रतिशत का अनुदान प्रदान किया जाएगा। यह सुनिश्चित करेगा कि किसान अपने खेतों में अधिक जमीन पर सिंचाई कर सकें और उनकी फसलें सुरक्षित रहें। योजना के तहत छोटे सीमांत किसानों को 75% सब्सिडी या 3 लाख 40 हजार रुपए का अनुदान दिया जाएगा, जबकि सामान्य वर्ग के किसानों को भी लागत का 75% सब्सिडी या 3 लाख रुपए का अनुदान प्रदान किया जाएगा। इसके माध्यम से सिंचाई के लिए पानी का खर्च बचाया जा सकेगा और बंजर जमीन को फिर से खेती के लायक बनाया जा सकेगा।”

इन सभी समस्याओं के समाधान हेतु सरकार ने डिग्गी योजना की शुरुआत की है ताकि अधिक से अधिक किसान इस योजना का लाभ उठा सकें। इस योजना के माध्यम से किसान अपने खेत में डिग्गी बनाकर पानी को एक जगह एकत्रित कर फवारा की सहायता से ज्यादा से ज्यादा सिंचाई कर सकते हैं। यह योजना किसानों को सिंचाई में सुधार करने, जल संरक्षण को बढ़ावा देने, और उन्हें अधिक जल स्रोतों का उपयोग करने के लिए प्रोत्साहित कर रही है।

Rajasthan Diggi Anudan Yojana की जानकारी

योजना का नाम Rajasthan Diggi Anudan Yojana
शुरू की गई राजस्थान सरकार द्वारा
संबंधित विभाग कृषि  विभाग राजस्थान
लाभार्थी राज्य के किसान
उद्देश्य राज्य में नहरी क्षेत्र में डिग्गी का निर्माण कर सिंचाई सुविधा को बढ़ावा देना
अनुदान 75 से 85% तक
राज्य राजस्थान
साल 2023
आवेदन प्रक्रिया ऑनलाइन
आधिकारिक वेबसाइट https://rajkisan.rajasthan.gov.in/

इन योजनाओ के बारे में भी जाने 

Rajasthan Diggi Anudan Yojana के लाभ एवं विशेषताएं

राजस्थान डिग्गी अनुदान योजना के लाभ एवं विशेषताएं:

  1. सिंचाई में सुधार:Rajasthan Diggi Anudan Yojana  के माध्यम से किसानों को डिग्गी बनाने के लिए सरकार द्वारा 75% से 85% तक का अनुदान प्रदान किया जा रहा है, जिससे वे अपने खेतों में सिंचाई के लिए ज्यादा पानी एकत्र कर सकें।इस योजना के तहत, छोटे सीमांत किसानों को 75% सब्सिडी या 3 लाख 40 हजार रुपए का अनुदान प्रदान किया जाएगा। सामान्य वर्ग के किसानों को भी लागत का 75% सब्सिडी या 3 लाख रुपए का अनुदान प्रदान किया जाएगा।
  2. सब्सिडी का लाभ: किसानों को डिग्गी बनाने पर सरकार द्वारा 3 लाख रुपए तक की अनुदान राशि प्रदान की जाएगी, जिससे उन्हें अपने पूंजी का बचत होगी और सिंचाई के लिए उपकरण की खरीदारी में मदद मिलेगी।
  3. जल संरक्षण: Rajasthan Diggi Anudan Yojana के माध्यम से किसानों को जल संरक्षण के लिए प्रेरित किया जा रहा है, जिससे पानी की बचत होगी और उनकी कृषि खेतों को सुरक्षित और प्रभावी ढंग से सिंचाई की जा सकेगी।
  4. बन्जर जमीन का उपयोग: योजना के तहत किसानों को बन्जर जमीनों का उपयोग सिंचाई के लिए करने का अवसर मिलेगा, जिससे बन्जर जमीन भी खेती के लिए उपयुक्त हो सकती है और जमीन की सुधारित कृषि किया जा सकेगा।
  5. आर्थिक समृद्धि: योजना के माध्यम से किसानों को आर्थिक समृद्धि में सहायता मिलेगी, जिससे उन्हें अधिक उत्पादकता और आर्थिक सुरक्षा हासिल करने में मदद मिलेगी।
  6. कृषि क्षेत्र में समृद्धि: योजना से किसानों को कृषि क्षेत्र में समृद्धि के लिए सहायक बनाने का प्रयास किया जा रहा है, जिससे उन्हें नई तकनीकों और सुधारित मेथड्स का लाभ मिलेगा।
  7. खेती में सुधार: किसानों को अनुदान राशि के साथ डिग्गी बनाने का मौका मिलने से उन्हें अपने खेतों में सिंचाई के लिए सुधार करने का अवसर मिलता है।
  8. पानी की बचत: Rajasthan Diggi Anudan Yojana के माध्यम से प्रदान की जाने वाली अनुदान राशि का उपयोग किसानों को पानी को एकत्रित करने और सिंचाई के लिए उपयोग करने में सहायता करता है, जिससे जल संरक्षण होता है।
  9. आत्मनिर्भरता: योजना के तहत अनुदान प्राप्त करने के बाद, किसान स्वयं पूंजी लगा कर डिग्गी बना सकता है, जिससे उसकी आत्मनिर्भरता में सहायता होती है।
  10. बैंक खाते में राशि क्रेडिट: अनुदान राशि को किसानों के बैंक खाते में 45 दिनों के अंदर क्रेडिट करने से उन्हें तत्परता मिलती है और योजना का लाभ जल्दी होता है।
  11. कृषि उत्पादकता का बढ़ता हुआ: सिंचाई की सुविधा से किसान अपने खेतों में बेहतर पैदावार प्राप्त कर सकता है, जिससे कृषि उत्पादकता में वृद्धि होगी।
  12. सामरिक समृद्धि: योजना के माध्यम से किसानों को आर्थिक समृद्धि हासिल करने में मदद मिलेगी और उन्हें सामरिक रूप से सशक्त बनाया जा सकता है।

Rajasthan Diggi Anudan Yojana के लिए पात्रता

राजस्थान डिग्गी अनुदान योजना के लाभ उठाने के लिए पात्रता:

  1. भूमि स्वामित्व: योजना का लाभ उठाने के लिए, आवेदक को खुद की खेती करने वाली भूमि का स्वामित्व होना चाहिए।
  2. कृषि भूमि का परिमाण: आवेदक के पास कृषि योग्य कम से कम 0.5 हैक्टेयर भूमि होनी चाहिए, और उसकी राजस्थान सरकार द्वारा निर्धारित सीमा से अधिक होनी चाहिए।
  3. कृषि योग्यता: आवेदक को अपनी भूमि पर कृषि करने के लिए योग्यता होनी चाहिए, जिससे उन्हें योजना का उपयोग सही ढंग से कर सकें।
  4. बैंक खाता: आवेदक को स्वयं का बैंक खाता होना चाहिए, ताकि अनुदान राशि सीधे उनके खाते में क्रेडिट हो सके।
  5. किसान पहचान पत्र: आवेदक को किसान पहचान पत्र के साथ आवेदन करना होगा, जिससे उनकी पहचान स्पष्ट रूप से हो सके।
  6. स्वयं पूंजी: आवेदक को डिग्गी बनाने के लिए कुछ स्वयं पूंजी लगानी होगी, जो योजना के तहत निर्धारित राशि का हिस्सा होगी।
  7. आवासीय प्रमाणपत्र: Rajasthan Diggi Anudan Yojana का लाभ उठाने के लिए आवेदक को राजस्थान में निवासी होना चाहिए, और इसकी पुष्टि के लिए आवासीय प्रमाणपत्र की आवश्यकता होगी।

नोट: उपरोक्त जानकारी सामान्य है और इसमें बदलाव हो सकता है, इसलिए आवेदकों को स्थानीय प्रशासन या संबंधित अधिकारियों से नवीनतम जानकारी प्राप्त करनी चाहिए।

Rajasthan Diggi Anudan Yojana आवश्यक दस्तावेज

राजस्थान डिग्गी अनुदान योजना के लिए आवश्यक दस्तावेजों की सूची निम्नलिखित है:

  1. आधार कार्ड
  2. राशन कार्ड
  3. खेत का नक्शा
  4. जमाबंदी की नकल
  5. किसान कार्ड
  6. भामाशाह कार्ड
  7. निवास प्रमाण पत्र
  8. सिंचाई जल स्रोत के दस्तावेज
  9. बैंक खाता विवरण
  10. पासपोर्ट साइज फोटो
  11. मोबाइल नंबर
  12. पटवारी द्वारा प्राप्त दस्तावेज- जमा बंदी नकल, भू नक्सा, भूमि प्रमाण

Rajasthan Diggi Anudan Yojana अनुदान राशि कितनी देती हे

राजस्थान सरकार द्वारा चलाई जाने वाली डिग्गी अनुदान योजना के तहत, पक्की डिग्गी निर्माण के लिए विशेष लाभ प्रदान किया जा रहा है। यह योजना उन किसानों के लिए है जिनके पास 5 हेक्टेयर से अधिक कृषि योग्य भूमि है। यहां पर इस योजना से जुड़े कुछ महत्वपूर्ण बिंदुओं का विवरण दिया गया है:

  1. पक्की डिग्गी की भराव क्षमता:
    • पक्की डिग्गी की निर्माण के लिए जिन्होंने 4 लाख लीटर भराव क्षमता वाली डिग्गी बनाई है, उन्हें 50% की सब्सिडी दी जाएगी या 350/- प्रति घनमीटर भराव क्षमता के अनुसार सहायता राशि प्रदान की जाएगी।
  2. कच्ची डिग्गी की भराव क्षमता:
    • कच्ची डिग्गी की निर्माण के लिए जिन्होंने 4 लाख लीटर से कम भराव क्षमता वाली डिग्गी बनाई है, उन्हें भी 50% की सब्सिडी दी जाएगी या 100/- प्रति घनमीटर भराव क्षमता के अनुसार सहायता राशि प्रदान की जाएगी।

Rajasthan Diggi Anudan Yojana के माध्यम से, किसानों को सस्ती में डिग्गी बनाने का विशेष लाभ प्रदान किया जा रहा है, जिससे कृषि उत्पादकता में सुधार होगा और साथ ही सूचना, निर्भीकता, और आत्मनिर्भरता में भी मदद मिलेगी।

Rajasthan Diggi Anudan Yojana के तहत आवेदन कैसे करें?

राजस्थान डिग्गी अनुदान योजना के ऑनलाइन आवेदन की प्रक्रिया निम्नलिखित है:इसे अपना कर आप आसानी से आवेदन कर सकते हैं और सब्सिडी का लाभ प्राप्त कर सकते हैं।

  • सबसे पहले आपको राजस्थान की किसान साथी पोर्टल की आधिकारिक वेबसाइट पर जाए।
  • अब आपके सामने वेबसाइट का होम पेज खुल कर सामने आएगा।

 

Rajasthan Diggi Anudan Yojana

  • फिर वेबसाइट के होम पेज पर आपको किसान विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  • इसके बाद आपको कृषि सेवा विभाग अनुभाग में डिग्गी विकल्प पर क्लिक करना होगा।

Rajasthan Diggi Anudan Yojana

  • क्लिक करते ही आपको डिग्गी योजना से संबंधित जानकारी मिल जाएगी।
  • अब आपको इस पेज पर क्लिक हियर टू अप्लाई विकल्प पर क्लिक करना होगा।

Rajasthan Diggi Anudan Yojana

  • इसके बाद आपके सामने आवेदन पत्र खुल जायेगा।
  • अब आपको आवेदन पत्र में मांगी गई सभी आवश्यक जानकारी दर्ज करनी होगी।
  • सभी जानकारी दर्ज करने के बाद फिर आपको जरूरी दस्तावेज भी अपलोड करने होंगे।
  • अंत में आपको सबमिट विकल्प पर क्लिक करना होगा, जिसके बाद आपके सामने आवेदन फॉर्म खुल जाएगा।
  • अब आपको आवेदन पत्र में मांगी गई सभी आवश्यक जानकारी दर्ज करनी होगी।
  • इस तरह आप आसानी से योजना के लिए आवेदन कर सकते हैं।
  • एक बार आपका आवेदन सत्यापित हो जाने के बाद, अनुदान राशि 45 दिनों के भीतर आपके बैंक खाते में भेज दी जाएगी।

Rajasthan Diggi Anudan Yojana (राजस्थान) के  स्वयं आवेदन की प्रक्रिया

  1. आवश्यक फ़ॉर्म को डाउनलोड करें:
    • कृषि डिग्गी योजना के आवेदन फॉर्म को आधिकारिक वेबसाइट से डाउनलोड करें।
    • फॉर्म को ठीक से भरें और सभी आवश्यक जानकारी और विवरण प्रदान करें।
  2. ऑनलाइन आवेदन पत्र भरें:
    • मूल आवेदन पत्र को ऑनलाइन ई-प्रपत्र (e-Form) में भरें।
    • आवश्यक दस्तावेज को स्कैन करें और आवेदन के साथ अपलोड करें।
  3. ऑनलाइन जमा करें और रसीद प्राप्त करें:
    • भरा गया ऑनलाइन आवेदन पत्र जमा करने के बाद आपको एक रसीद प्राप्त होगी।
    • रसीद को ऑनलाइन ही प्राप्त करें।
  4. दस्तावेज स्वयं या डाक के माध्यम से जमा करें:
    • आवेदक को मूल दस्तावेजों को स्वयं या डाक के माध्यम से संबंधित कृषि विभाग के कार्यालय में जमा करना होगा।
    • जमा किए जाने पर आपको जमा रसीद मिलेगी जिसे आपको रखना होगा।
  5. आवेदन की प्राप्ति:
    • आवेदन पत्र की सफल प्राप्ति के बाद, आपको आवेदन की प्राप्ति की जाने वाली रसीद को ऑनलाइन ही प्राप्त कर सकते हैं।
  6. आवश्यक दस्तावेज:
    • आधार कार्ड/भामाशाह कार्ड
    • जमाबंदी की नकल (छः माह से अधिक पुरानी नहीं होनी चाहिए)

इसके बाद, आपका आवेदन प्रक्रिया के अनुसार प्रक्रियाधीन होगा और यदि आप पात्र हैं, तो आपको अनुदान प्रदान किया जाएगा

सारांश (Summay)

तो दोस्तों, हमने आपको इस आर्टिकल के माध्यम से बताया कि कैसे आप (Rajasthan Diggi Anudan Yojana:राजस्थान डिग्गी अनुदान योजना) की सभी जानकारी को विस्तार पूर्वक बता दिया है।यदि आपको जानकारी पसंद आई हो तो आप हमें मैसेज करके बता सकते हैं और इसके अलावा यदि आपको कोई भी समस्या या योजना से जुड़े सवालों के जवाब जानने हैं तो आप हमें कमेंट बॉक्स में कमेंट करके बता सकते हैं।हमारी टीम आपके सभी सवालों का जवाब देने की कोशिश जरूर करेगी।

ध्यान दें :– ऐसे ही केंद्र सरकार और राज्य सरकार के द्वारा शुरू की गई नई या पुरानी सरकारी योजनाओं की जानकारी हम सबसे पहले अपने इस वेबसाइट सरकारी योजनाये के माध्यम से देते हैं तो आप हमारे वेबसाइट को फॉलो करना ना भूलें ।

अगर आपको हमारा यह आर्टिकल पसंद आया है तो इसे Like और Share जरूर करें ।

इस आर्टिकल को अंत तक पढ़ने के लिए धन्यवाद…

Posted By – Surendra Jain

FAQs

डिग्गी निर्माण के अनुदान के लिए न्यूनतम कितनी सिंचित कृषि योग्य भूमि होनी चाहिए?

Rajasthan Diggi Anudan Yojana के लाभार्थियों के लिए निम्नलिखित पात्रता मानदंड हैं:

1. किसान सिंचित क्षेत्र में राजस्व रिकार्ड के आधार पर भूमि का स्वामित्व रखते हैं।
2. सामान्य या विशिष्ट आवंटी, गैर खातेदार हों।
3. किसान के पास न्यूनतम आधा हेक्टेयर, यानि 2 बीघा सिंचित खेती योग्य भूमि हो।

इसके लिए, किसानों को योजना के लिए आवेदन करना और पात्रता मानदंडों को पूरा करना होगा।

खेत में डिग्गी कितने फुट की दवाई पर सब्सिडी मिलती है?

Rajasthan Diggi Anudan Yojana के अंतर्गत खेत में डिग्गी की दवाई पर सब्सिडी का मापदंड साइज, पैंदा, और गहराई के आधार पर होता है। आपने दी गई जानकारी के अनुसार:

1. 30 लाख लीटर का साइज (120 गुणा 120) की डिग्गी के लिए:
– पैंदा: 90 गुणा 90
– गहराई: 10 फीट

2. 35 लीटर पानी की क्षमता वाली डिग्गी का साइज (130 गुणा 130) के लिए:
– पैंदा: 100 गुणा 100
– गहराई: 10 फीट

इसके आधार पर, आपको सब्सिडी प्राप्त होने की संभावना है, लेकिन सब्सिडी की निश्चित राशि और आवेदन प्रक्रिया के बारे में अधिक जानकारी के लिए स्थानीय कृषि विभाग या आधिकारिक वेबसाइट पर जांच करें।

राजस्थान डिग्गी निर्माण अनुदान योजना से कितनी राशि मिलेगी?

Rajasthan Diggi Anudan Yojana के तहत किसानों को 3 लाख रुपये तक की अनुदान राशि प्रदान करने से उन्हें खुद अपने खेत में डिग्गी बनाने की सुविधा होगी और इससे सिंचाई में सुधार होगा।

Rajasthan Diggi Anudan Yojana के लिए आवेदन कैसे करें?

राजस्थान सरकार के कृषि विभाग की आधिकारिक वेबसाइट पर जाएं। यहां पर आपको योजना से संबंधित विवरण और आवश्यक जानकारी मिलेगी।

Leave a Reply