pm kisan Drone Yojana 2024 : किसानों को कृषि ड्रोन खरीदने पर मिलेगी 50 प्रतिशत सब्सिडी, ऐसे उठाएं लाभ

pm kisan Drone Yojana 2024
pm kisan Drone Yojana 2024

pm kisan Drone Yojana 2024 :  जानें किसानों को कितनी मिलेगी सब्सिडी और इसके लिए कहां करना होगा आवेदन

pm Kisan Drone Yojana 2024 क्या है ?

pm kisan Drone Yojana 2024 : पीएम किसान ड्रोन योजना 2024′ एक महत्वपूर्ण कदम है जो देश के किसानों को तकनीकी उन्नति और संवेदनशीलता की दिशा में आगे बढ़ाने का लक्ष्य रखता है। इस योजना के माध्यम से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी ने किसानों को ड्रोन प्रौद्योगिकी के लाभ से जोड़ने का प्रयास किया है। ड्रोन के उपयोग से किसान अपनी खेती में नई तकनीकों का उपयोग कर सकते हैं और उनकी उत्पादनता को बढ़ा सकते हैं।

इस योजना के अंतर्गत किसानों को ड्रोन खरीदने पर सब्सिडी प्राप्त करने का विकल्प मिलेगा। साथ ही यह योजना उन नागरिकों को भी लाभ प्रदान करेगी जो गांवों में निवास करते हैं और खेती में लगे हैं। केंद्र सरकार का मुख्य उद्देश्य है कि यह योजना हर किसान तक पहुंचे और उन्हें तकनीकी सहायता उपलब्ध कराए।

योजना के तहत यदि किसान ड्रोन खरीदता है तो 40% या अधिकतम 4 लाख रुपए का सहायता प्रदान की जाएगी अगर किसान उत्पादक संगठन ड्रोन खरीदता है तो 75% तक का अनुदान उपलब्ध होगा। साथ ही कृषि मशीनरी के लिए कृषि ट्रेनिंग इंस्टिट्यूट या कृषि विज्ञान केन्द्रों  द्वारा वित्तीय सहायता प्रदान की जाएगी। इससे किसानों को नवाचारी तकनीकों का उपयोग करने के लिए उत्साहित किया जा रहा है और उनकी खेती में बेहतर उत्पादकता को सुनिश्चित किया जा रहा है।

pm Kisan Drone Yojana 2024 : कृषि ड्रोन खरीदने पर कितनी मिलेगी सब्सिडी ?

pm Kisan Drone Yojana 2024 : कृषि ड्रोन की खरीद पर सरकार द्वारा सब्सिडी की घोषणा की गई है। इस योजना के अंतर्गत विभिन्न वर्गों के किसानों को सब्सिडी प्रदान की जाएगी जैसे कि लघु, सीमांत, महिला, और अनुसूचित जाति के किसान। उन्हें 10 लाख रुपए के ड्रोन की 50 प्रतिशत सब्सिडी मिलेगी अर्थात 5 लाख रुपए का अनुदान। कस्टम हायरिंग केंद्र के संचालकों के लिए जिन आवेदकों या उनके प्रतिनिधियों के पास ड्रोन पायलट का वैध लाइसेंस नहीं है और यदि वे यंत्र की कीमत का 40 प्रतिशत अधिकतम 4 लाख रुपए तक खरीदना चाहते हैं तो 75 प्रतिशत अधिकतम 7 लाख 50 हजार रुपए तक का अनुदान प्रदान किया जाएगा।

जिन आवेदकों या उनके प्रतिनिधियों के पास ड्रोन पायलट का वैध लाइसेंस नहीं है और वे प्रशिक्षण प्राप्त कर इसे लेना चाहते हैं उन्हें विभागीय प्रशिक्षण केंद्र में ड्रोन पायलट लाइसेंस प्राप्त करने का अवसर प्रदान किया जा सकता है। प्रशिक्षण पूरा करने के बाद चयनित आवेदकों या उनके प्रतिनिधियों को किसान ड्रोन खरीदने की पात्रता होगी।

pm Kisan Drone Yojana 2024 : ड्रोन उड़ाने की प्रशिक्षण शुल्क कितना होगा ?

pm Kisan Drone Yojana 2024 : कृषि ड्रोन खरीदने के लिए आवेदक या उसके प्रतिनिधि को ड्रोन उड़ाने का प्रशिक्षण होना आवश्यक है। इस प्रशिक्षण की व्यवस्था विभाग द्वारा की गई है। इस प्रशिक्षण के लिए लाभार्थी की न्यूनतम आयु 18 वर्ष और शैक्षणिक योग्यता 10वीं पास होना आवश्यक है। ड्रोन उड़ाने के प्रशिक्षण के लिए 30,000 रुपये जीएसटी अतिरिक्त का शुल्क निर्धारित किया गया है। इस शुल्क में से 50 प्रतिशत या अधिकतम 15 हजार रुपये एवं जीएसटी अभ्यर्थी को स्वयं वहन करना होगा और शेष 50 प्रतिशत राशि शासन द्वारा वहन की जाएगी।

यह आवासीय प्रशिक्षण 7 दिन का होगा। इसमें 5 दिन डीजीसीए द्वारा निर्धारित प्रशिक्षण दिया जाएगा और 2 दिन कृषि ड्रोन संचालन का प्रशिक्षण दिया जाएगा। प्रशिक्षण के दौरान रहने और खाने की व्यवस्था मुफ्त होगी।

pm Kisan Drone Yojana 2024 : किसान ड्रोन योजना के लाभ एवं विशेषताएं

किसान ड्रोन योजना के लाभ और विशेषताओं के बारे में जानकारी ! यह योजना किसानों को कई तरह के फायदे प्रदान करेगी :

  1. फसलों का मूल्यांकन : ड्रोन के उपयोग से किसान अपनी फसलों का मूल्यांकन कर सकेंगे जिससे उन्हें बेहतर मार्केटिंग निर्णय लेने में मदद मिलेगी।
  2. लैंड रिकॉर्ड डिजिटलीकरण : यह योजना किसानों को अपनी जमीन का डिजिटलीकरण करने का अवसर देगी जिससे उन्हें सरकारी सुविधाओं और योजनाओं का लाभ उठाने में मदद मिलेगी।
  3. कीटनाशकों और पोषक तत्वों का छिड़काव : ड्रोन का उपयोग करके कीटनाशकों और पोषक तत्वों का सही मात्रा में छिड़काव किया जा सकेगा जिससे फसलों की उत्पादकता बढ़ सकती है।
  4. ड्रोन खरीद पर अनुदान : किसानों को कृषि कार्यों के लिए ड्रोन खरीदने पर अनुदान प्रदान किया जाएगा जिससे उनकी तकनीकी योग्यता में सुधार होगा।
  5. किसानों को वित्तीय सहायता  : अनुदान की सहायता से निर्धारित किसानों को वित्तीय सहायता प्राप्त होगी जो उन्हें नई तकनीकों के लिए प्रेरित करेगी।
  6. कीट प्रबंधन : ड्रोन का उपयोग करके कीट प्रबंधन किया जा सकेगा जिससे कीटों से बचाव में सहायता मिलेगी और फसल की नुकसान से बचाव होगा।

pm Kisan Drone Yojana 2024 : ड्रोन प्रशिक्षण के लिए आवेदन कहाँ करें ?

जिन आवेदकों या उनके प्रतिनिधियों को ड्रोन उड़ाने के प्रशिक्षण में भाग लेना है उन्हें सबसे पहले ऑनलाइन आवेदन करने के लिए वेबसाइट https://rajkisan.rajasthan.gov.in/ पर जाना होगा। यहाँ पर कौशल विकास विकल्प का चयन करके अपनी जानकारी और आवश्यक दस्तावेज़ अपलोड करना होगा। संबंधित कौशल विकास केंद्र के अधिकारियों द्वारा पंजीकृत आवेदक के दस्तावेजों की जांच की जाएगी और उनका सत्यापन किया जाएगा। उपलब्ध बैच के आधार पर आवेदकों का चयन किया जाएगा।

प्रशिक्षण की शुरुआत से पहले चयनित आवेदकों को सूचित किया जाएगा। आवेदक या प्रतिनिधि को प्रशिक्षण के समय में अपलोड की गई दस्तावेज़ों की प्रमाणित प्रतियां लानी होगी। किसी भी अनैतिकता की स्थिति में संबंधित आवेदक या प्रतिनिधि को प्रशिक्षण में भाग नहीं लेने के लिए अयोग्य घोषित किया जा सकता है।

pm Kisan Drone Yojana 2024 : ड्रोन खरीदने के लिए आवेदन की जानकारी

pm Kisan Drone Yojana 2024 : कृषि क्षेत्र में ड्रोन संचालन के लिए वैध लाइसेंस का होना अनिवार्य है और कृषि अभियांत्रिकी संचालनालय द्वारा किसानों को ड्रोन खरीदने पर अनुदान प्राप्त करने के लिए आवेदन की मंजूरी दी जा रही है। इसके तहत विभिन्न श्रेणियों के किसान कस्टम हायरिंग केंद्र संचालक और कृषक उत्पादक संगठन ई-कृषि यंत्र अनुदान पोर्टल पर आवेदन कर सकते हैं। आवेदन के साथ एक 5,000 रुपये का डिमांड ड्राफ्ट और वैध ड्रोन पायलट लाइसेंस की प्रमाणित प्रति जमा करना अनिवार्य है।

ड्राफ्ट का नाम जिले के सहायक कृषि यंत्री के नाम पर होना चाहिए। अगर आवेदन के साथ धरोहर राशि का ड्राफ्ट नहीं है तो आवेदन को विचार में नहीं लिया जाएगा। यदि पर्याप्त आवेदन प्राप्त होते हैं तो आवेदन की प्रक्रिया को मान्य किया जा सकता है और आवेदन की अंतिम तिथि बदली जा सकती है लेकिन आवेदन की प्रक्रिया जारी रहेगी जब तक लक्ष्य पूरा नहीं हो जाता।

pm Kisan Drone Yojana 2024 : किसान ड्रोन योजना के लिए कुछ जरूरी दिशा निर्देश :

किसान ड्रोन योजना के सफल लागू होने के लिए कुछ जरूरी दिशा निर्देश निम्नलिखित हो सकते हैं :

  1. हाईटेंशन लाइन और मोबाइल टावर क्षेत्र में अनुमति : हाईटेंशन लाइन या मोबाइल टावर वाली क्षेत्रों में ड्रोन का उपयोग करने से पहले स्थानीय अधिकारियों से अनुमति प्राप्त करना आवश्यक है।
  2. ग्रीन जोन में अनुमति न होना : ग्रीन जोन क्षेत्रों में ड्रोन के माध्यम से दवाई छिड़काना संभव नहीं होगा इसलिए ऐसे क्षेत्रों में ड्रोन का उपयोग करने से पहले स्थानीय नियमों और विधियों का पालन किया जाना चाहिए।
  3. बुरे मौसम या तेज हवा में उड़ान मना करना : ड्रोन के उड़ाने पर बुरे मौसम या तेज हवा में नहीं किया जाना चाहिए क्योंकि ऐसे मौसम के दौरान ड्रोन का उपयोग गलत हो सकता है और यह दुर्घटनाओं का कारण बन सकता है।
  4. रहवासी क्षेत्र के आसपास खेती होने पर भी अनुमति लेना : ड्रोन का उपयोग करते समय रहवासी क्षेत्र के आसपास खेती होने पर भी स्थानीय अधिकारियों से अनुमति प्राप्त करना आवश्यक है ताकि किसी भी अनुचितता से बचा जा सके।

ये दिशा निर्देश सुनिश्चित करेंगे कि ड्रोन का उपयोग सुरक्षित और सफल हो।

FAQ’s

कृषि में ड्रोन का आविष्कार किसने किया था ?

1960 के दशक में अमेरिकी केनेडियन इंजीनियर जॉन मैकेंजी ने पहले बदलाव किया था जब उन्होंने पहला ऑटोनोमस उड़ान चलाने के तरीके के विकास के लिए काम किया था। इसके बाद, 1980 के दशक में जेम्स लॉरी, अमेरिकी उड्डयन अभियांत्रिक और कृषि तकनीकी ने ड्रोन के उपयोग की प्रोत्साहना की।

किस राज्य ने कृषि के लिए ड्रोन का इस्तेमाल किया ?

भारत में  उत्तर प्रदेश, महाराष्ट्र, राजस्थान, कर्नाटक, गुजरात, हरियाणा, पंजाब, तमिलनाडु, और तेलंगाना जैसे राज्यों ने कृषि में ड्रोन का उपयोग किया है। इन राज्यों में ड्रोन के माध्यम से फसलों का सर्वेक्षण, कीट प्रबंधन, जल संवर्धन, और फसलों की स्थिति का निरिक्षण किया गया है।

सारांश (Summary)

तो दोस्तों हमने आपको इस आर्टिकल के माध्यम से (pm kisan Drone Yojana 2024 : किसानों को कृषि ड्रोन खरीदने पर मिलेगी 50 प्रतिशत सब्सिडीकी सभी जानकारी को विस्तार पूर्वक बता दिया है। यदि आपको जानकारी पसंद आई हो तो आप हमें मैसेज करके बता सकते हैं और इसके अलावा यदि आपको कोई भी समस्या या योजना से जुड़े सवालों के जवाब जानने हैं तो आप हमें कमेंट बॉक्स में कमेंट करके बता सकते हैं। हमारी टीम आपके सभी सवालों का जवाब देने की कोशिश जरूर करेगी।

ध्यान दें :– ऐसे ही केंद्र सरकार और राज्य सरकार के द्वारा शुरू की गई नई या पुरानी सरकारी योजनाओं की जानकारी हम सबसे पहले अपने इस वेबसाइट सरकारी योजनाये के माध्यम से देते हैं तो आप हमारे वेबसाइट को फॉलो करना ना भूलें ।

अगर आपको हमारा यह आर्टिकल पसंद आया है तो इसे Like और Share जरूर करें ।

इस आर्टिकल को अंत तक पढ़ने के लिए धन्यवाद

Leave a Reply