Madhumakhi Palan Rin Yojana : मधुमक्खी पालन ऋण योजना 2023

Madhumakhi Palan Rin Yojana
Contents hide
1 Madhumakhi Palan Rin Yojana:मधुमक्खी पालन ऋण योजना 2023 के लिए ऑनलाइन आवेदन ,पात्रता,प्रशिक्षण केंद्र

Madhumakhi Palan Rin Yojana:मधुमक्खी पालन ऋण योजना 2023 के लिए ऑनलाइन आवेदन ,पात्रता,प्रशिक्षण केंद्र

Madhumakhi Palan Rin Yojana देश में किसानों की आय बढ़ाने के लिए सरकार कई तरह की योजनाएं चला रही है जिसका सीधा फायदा उन्हें मिले। इन सरकारी पहलों का प्राथमिक लक्ष्य देश के समग्र उत्पादन को बढ़ावा देना और किसानों की आय में सुधार करना है। इसके अतिरिक्त, किसानों को अतिरिक्त लाभ कमाने का अवसर प्रदान करने के लिए सरकार द्वारा मधुमक्खी पालन ऋण योजना नामक एक नई योजना शुरू की गई है। इस योजना के तहत मधुमक्खी पालन के लिए सरकार लोन देगी मधुमक्खी पालन को समर्थन और प्रोत्साहन देने के लिए केंद्र सरकार ने आत्मनिर्भर भारत पहल के तहत 500 करोड़ रुपये का प्रावधान किया है। मधुमक्खी पालन एक व्यावसायिक अवसर है जिसे सभी पृष्ठभूमि के किसान और व्यवसायी आसानी से अपना सकते हैं। हम आपको मधुमक्खी पालन उद्यम शुरू करने के लिए व्यापक मार्गदर्शन प्रदान करेगे, जिसमें मधुमक्खी पालन ऋण योजना और प्रशिक्षण अवसरों पर बहुमूल्य जानकारी शामिल है। इस योजना की  पूरी जानकारी के लिए आप इसे पूरा पढ़े और इसे फ़ोलो करे ।

Madhumakhi Palan Rin Yojana मधुमक्खी पालन ऋण योजना क्या है ?

वर्तमान में, कृषि योग्य भूमि की कम होती उपलब्धता के बावजूद, पारंपरिक कृषि के साथ-साथ बागवानी फसलों पर जोर बढ़ रहा है। इस संदर्भ में, मधुमक्खी पालन किसानों के लिए अपनी आय बढ़ाने का एक उत्कृष्ट अवसर बनकर उभरा है। यह उद्यम न केवल किसानों और बेरोजगारों की आजीविका बढ़ाने की अपार संभावनाएं रखता है, बल्कि यह पर्यावरण को संरक्षित करने का एक शानदार साधन भी है। परिणामस्वरूप, मधुमक्खी पालन में कृषि और बागवानी उत्पादन के विकास को बढ़ावा देने की उल्लेखनीय क्षमता है।आज के आधुनिक युग में, अधिकांश किसान शहद और फसलों के परागण के लिए मधुमक्खियाँ पालते हैं। हमारे देश में मुख्य रूप से इटालियन मधुमक्खियाँ (एपि-मेलिफ़ेरा) पाली जाती हैं। इसका पालन करना काफी आसान है क्योंकि यह स्वभाव से शांत होती है। मधुमक्खियों से शहद और मोम के अलावा रबर, प्रोपोलिस, रॉयल जेली आदि प्राप्त होते हैं। इसके अलावा, मधुमक्खियों द्वारा फूलों के परागण के कारण कृषि उत्पादन लगभग ¼ (एक चौथाई) बढ़ जाता है।इसलिए सरकार ने मधुमक्खी पालन ऋण योजना शुरू की है ताकि किसानो को लाभ मिल सके।

Madhumakhi Palan Rin Yojana मधुमक्खी पालन ऋण योजना के उद्देश्य

मधुमक्खी पालन योजना केंद्र सरकार द्वारा शुरू की गई एक महत्वपूर्ण प्रणाली है। सरकार द्वारा इस योजना के लॉन्च का मुख्य उद्देश्य देश के किसानों को प्रोत्साहित करना है, साथ ही साथ मधुमक्खी पालन उनके लिए भी जो बेरोजगार है। यहां तक ​​कि जो लोग मधुमक्खी पालन व्यवसाय करना चाहते हैं, उन्हें ऋण के रूप में इस कार्य के लिए वित्तीय सहायता मिलेगी, साथ ही ऋण पर सब्सिडी भी दिया जायेगा । वास्तव में, भारत की जलवायु मधुमक्खी पालन के अनुकूल है, क्योंकि सरकार ने मधुमक्खी पालन के माध्यम से किसानों की आय को बढ़ाने के लिए यह योजना शुरू की है।

Madhumakhi Palan Rin Yojana मधुमक्खी पालन ऋण योजना के लाभ

हमारे देश भारत में मधुमक्खी पालन बहुत समय से किया जा रहा है। यह उन लोगों के लिए बहुत महत्वपूर्ण है जो शहरों और गांवों में रहते हैं।

  • मधुमक्खी पालन ऋण योजना का लाभ बेरोजगारों और किसानों को दिया जाएगा। जिससे देश में बढ़ती बेरोजगारी को कम किया जा सके।
  • मधुमक्खी पालन का व्यवसाय कई लोगों के लिए शुरू करना जरूरी नहीं है, एक अकेला व्यक्ति भी इस व्यवसाय को शुरू कर सकता है।
  • बाजार में शहद और मोम की कीमत हमेशा काफी ऊंची रहती है।
  • मधुमक्खी पालन से पर्यावरण पर भी सकारात्मक प्रभाव पड़ता है।
  • मधुमक्खी पालन से सूरजमुखी जैसे कई प्रकार के फूलों का उत्पादन बढ़ता है।

Madhumakhi Palan Rin Yojana मधुमक्खी पालन ऋण योजना में लोन और सब्सिडी योजना

मधुमक्खी पालन के लिए सरकार उन्हें 2 से 5 लाख तक का लोन देती है. इस मामले में, सरकार कुल लागत का 65% और खादी ग्रामोद्योग 25% की सब्सिडी प्रदान करती है। कुल मिलाकर इस काम के लिए आपको अपने पैसे का सिर्फ 10% ही निवेश करना होगा। आपको बता दें कि सरकार ने प्रत्येक राज्य में 50 मधुमक्खियों का लक्ष्य रखा है। और राष्ट्रीय विकास से 50% सब्सिडी की भी घोषणा की गई।

Madhumakhi Palan Rin Yojana मधुमक्खी पालन ऋण योजना मधुमक्खी पालन में लगने वाले सामान

मधुमक्खी पालन के लिए आपको निम्नलिखित चीजों की आवश्यकता होती है, इसके लिए आपको एक लकड़ी का बक्सा, दस्ताने, एक रानी मधुमक्खी, खुला मैदान, शहद निकालने की मशीन आदि चीजों की आवश्यकता होती है। इस बिजनेस को शुरू करने की बात करें तो इसे आप अपनी सुविधा के अनुसार कर सकते हैं. एक डिब्बे की कीमत की बात करें तो यह 4 से 5 हजार रुपये तक है. यदि आप इस योजना के तहत यह बॉक्स खरीदते हैं। तो आपको 75% सब्सिडी भी मिलती है।

Madhumakhi Palan Rin Yojana मधुमक्खी पालन ऋण योजना जानकारी

योजना का नाम मधुमक्खी पालन योजना
राज्य राजस्थान
लाभ रोजगार प्रदान करना
वेबसाइट http://www.agriculture.rajasthan.gov.in
आवेदन फॉर्म यहाँ क्लिक करें

 

यह भी पढ़े –

Madhumakhi Palan Rin Yojana मधुमक्खी पालन ऋण योजना कैसे करें मधुमक्खी पालन की शुरुआत

विश्व में मधुमक्खियों की 20,000 से अधिक प्रजातियाँ पाई जाती हैं। लेकिन केवल चार प्रकार की प्रजातियाँ ही शहद का उत्पादन करती हैं। अगर आप मधुमक्खी पालन में आना चाहते हैं तो आपको इसके बारे में जानना जरूरी है। हालांकि सरकार मुफ्त ट्रेनिंग देती है. इसके जरिए आप यह काम आसानी से कर पाएंगे।

आपको बता दें कि मधुमक्खी पालन में तीन प्रकार की मधुमक्खियों की आवश्यकता होती है जो इस प्रकार हैं:

  • पहली मधुमक्खी रानी मधुमक्खी होती है, जो 24 घंटे में 800 से 1500 अंडे देती है।
  • दूसरे प्रकार की मधुमक्खी को श्रमिक मधुमक्खी कहा जाता है और यह अंडे से निकलने वाले बच्चों को पोषण देने का काम करती है।एक छत्ते में कार्यरत मधुमक्खियों की संख्या 25,000 से अधिक होनी चाहिए।
  • तीसरा ड्रोन यानि नर जो रानी मधुमक्खी को निषेचित करने का काम करता है।  यह एक डिब्बे में 300 से 400 होनी चाहिए.

Madhumakhi Palan Rin Yojana मधुमक्खी पालन ऋण योजना प्रशिक्षण

निर्धारित मधुमक्खी पालन पाठ्यक्रम के अनुसार, लाभार्थियों को राज्य और जिला मधुमक्खी पालन प्रशिक्षण केंद्रों, राज्य मधुमक्खी पालन विस्तार केंद्रों और मास्टर प्रशिक्षकों के माध्यम से पांच दिवसीय मधुमक्खी पालन प्रशिक्षण प्रदान किया जाता है। मधुमक्खी बक्से, टूल किट आदि में सहायता करें।

सिद्धांत 15 घंटे – 3 घंटे प्रतिदिन
व्यायाम -10 घंटे – दिन में 2 घंटे
प्रति समूह/बैच संख्या – 25 उम्मीदवार

Madhumakhi Palan Rin Yojana मधुमक्खी पालन ऋण योजना में प्रशिक्षण शुल्क

सामान्य उम्मीदवारों के लिए प्रशिक्षण शुल्क रु. प्रति उम्मीदवार. इसका भुगतान 1500 करना होगा। एससी/एसटी उम्मीदवारों के लिए प्रशिक्षण शुल्क प्रदान में छुट गया है।

Madhumakhi Palan Rin Yojana मधुमक्खी पालन ऋण योजना आवश्यक दस्तावेज

आधार कार्ड
निवास प्रमाण पत्र
आय प्रमाण पत्र
बैंक खाता
नवीनतम फ़ोटो

Madhumakhi Palan Rin Yojana मधुमक्खी पालन ऋण योजना के पात्रता मानदंड

  • आयु 18 से 55 वर्ष के बीच होनी चाहिए.
  • आवेदक के पास आधार कार्ड एवं फोटोयुक्त राशन कार्ड/निर्वाचन (मतदान)  कार्ड होना आवश्यक है।
  • एक परिवार में एक व्यक्ति मधुमक्खियों के 10 डिब्बे प्राप्त कर सकेगा।
  • वे व्यक्ति जिन्होंने पहले ही केवीआईसी/केवीआईबी/नाबार्ड/केवीके/कृषि बागवानी बोर्ड/एनजीओ से मधुमक्खी पालन में प्रशिक्षण प्राप्त कर लिया है, योग्य मधुमक्खी पालन आदि। मधुमक्खी पालन योजना के लिए पात्र हैं।

Madhumakhi Palan Rin Yojana मधुमक्खी पालन ऋण योजना के लिए ऑनलाइन आवेदन

  • मधुमक्खी पालन ऋण कार्यक्रम के लिए आवेदन करने के लिए, आपको सबसे पहले राष्ट्रीय मधुमक्खी पालन और शहद मिशन की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • होम पेज पर आपको मधुमक्खी पालन योजना का लिंक दिखाई देगा आपको उस पर क्लिक करना होगा।
  • इसके बाद एक नया पेज खुलेगा जहां आपको गाइडलाइन्स पढ़नी होंगी और नेक्स्ट पर क्लिक करना होगा।
  • अब आपके सामने एक नया आवेदन पत्र खुलकर आएगा, जिसे आपको डाउनलोड करना होगा।

Madhumakhi Palan Rin Yojana

  • इस फॉर्म को डाउनलोड करके ध्यानपूर्वक भरने के बाद आपको इसे नजदीकी मधुमक्खी पालन केंद्र पर भेजना होगा।
  • उसके बाद विभाग द्वारा आपके सभी दस्तावेजों की जांच की जाएगी और यदि आपके दस्तावेज सही हैं तो आपका चयन किया जाएगा।
  • इसके बाद इस योजना के तहत आपको शिक्षा और व्यवसाय के लिए लोन दिया जाएगा।

सारांश (Summay)

तो दोस्तों, हमने आपको इस आर्टिकल के माध्यम से बताया कि कैसे आप (मधुमक्खी पालन ऋण योजना 2023) Madhumakhi Palan Rin Yojana 2023 की सभी जानकारी को विस्तार पूर्वक बता दिया है।यदि आपको जानकारी पसंद आई हो तो आप हमें मैसेज करके बता सकते हैं और इसके अलावा यदि आपको कोई भी समस्या या योजना से जुड़े सवालों के जवाब जानने हैं तो आप हमें कमेंट बॉक्स में कमेंट करके बता सकते हैं।हमारी टीम आपके सभी सवालों का जवाब देने की कोशिश जरूर करेगी।

ध्यान दें :– ऐसे ही केंद्र सरकार और राज्य सरकार के द्वारा शुरू की गई नई या पुरानी सरकारी योजनाओं की जानकारी हम सबसे पहले अपने इस वेबसाइट सरकारी योजनाये के माध्यम से देते हैं तो आप हमारे वेबसाइट को फॉलो करना ना भूलें ।

अगर आपको हमारा यह आर्टिकल पसंद आया है तो इसे Like और Share जरूर करें ।

इस आर्टिकल को अंत तक पढ़ने के लिए धन्यवाद…

Posted By – Surendra Jain

Leave a Reply