Subsidy on Kutti Machine : पावर चलित कुट्टी मशीन पर 50% सब्सिडी, जानें कैसे प्राप्त करें लाभ

Subsidy on Kutti Machine
Subsidy on Kutti Machine

Subsidy on Kutti Machine : कुट्टी मशीन पर सब्सिडी से किसानों की आय में होगी वृद्धि 

Subsidy on Kutti Machine :  कई किसान खेती के साथ पशुपालन भी करते हैं जिससे उनकी आय में वृद्धि होती है। ऐसे किसानों के लिए पशुओं के चारे को काटने वाली कुट्टी मशीन पर सब्सिडी (Subsidy on Kutti Machine) प्रदान की जाती है। जिस प्रकार कृषि यंत्र अनुदान योजना के तहत कृषि उपकरणों पर सब्सिडी मिलती है उसी तरह नेशनल लाइवस्टॉक मिशन योजना (National Livestock Mission Scheme) के तहत पशुओं के चारे के लिए कुट्टी मशीन पर भी सब्सिडी दी जाती है।

इस योजना की खास बात यह है कि पावर से चलने वाली कुट्टी मशीन पर पशुपालक किसानों को 50 प्रतिशत तक की सब्सिडी मिलती है। इस तरह किसान इस योजना का लाभ उठाकर आधी कीमत पर कुट्टी मशीन खरीद सकते हैं। इसके लिए आवेदन प्रक्रिया को जानना महत्वपूर्ण है ताकि किसान आसानी से सब्सिडी का लाभ प्राप्त कर सकें।

Subsidy on Kutti Machine क्या है पावर चलित कुट्टी मशीन

Subsidy on Kutti Machine : पशुओं का चारा काटने के लिए उपयोग में आने वाली कुट्टी मशीन दो प्रकार की होती हैं पावर चालित और हस्त चलित कुट्टी मशीन (hand operated kutti machine)। योजना के तहत दोनों प्रकार की मशीनों पर सब्सिडी (subsidy) का लाभ प्रदान किया जाता है।

आजकल पावर चालित कुट्टी मशीन (power operated kutti machine) का प्रचलन अधिक हो गया है। यह मशीन बिजली से चलती है और बैटरी से भी चलाई जा सकती है जिससे इसमें मेहनत कम लगती है और काम कम समय में हो जाता है। पावर चालित कुट्टी मशीन का उपयोग पशुपालन में चारा काटने के लिए अधिक सुविधाजनक और समय बचाने वाला होता है।

Subsidy on Kutti Machine पावर चलित कुट्टी मशीन की कितनी है कीमत

Subsidy on Kutti Machine : यदि पावर चालित कुट्टी मशीन की कीमत की बात करें तो यह हाथ से चलाई जाने वाली कुट्टी मशीन से अधिक होती है। बाजार में विभिन्न कंपनियों की पावर चालित कुट्टी मशीनें उपलब्ध हैं जिनकी अनुमानित कीमत 15,000 रुपए से लेकर 25,000 रुपए तक होती है। वहीं हाथ से चलने वाली कुट्टी मशीन की कीमत 2,000 रुपए से 8,000 रुपए के बीच होती है। इसके अलावा ट्रैक्टर से चलने वाली कुट्टी मशीन की कीमत 30,000 रुपए से शुरू होकर 2 लाख रुपए तक जा सकती है।

Subsidy on Kutti Machine पावर चालित कुट्टी मशीन पर कितनी मिलेगी सब्सिडी

Subsidy on Kutti Machine : पावर चालित कुट्टी मशीन पर राज सरकार की ओर से पशुपालक किसानों को 50 प्रतिशत सब्सिडी (subsidy) दी जाती है। यदि मशीन की कीमत 20,000 रुपए है तो आपको 10,000 रुपए की सब्सिडी मिल जाएगी। यह सब्सिडी मशीन के लागत मूल्य पर दी जाती है जिसमें जीएसटी अलग से होता है जिसका भुगतान पशुपालक किसान को करना होता है।

यह ध्यान रखना महत्वपूर्ण है कि सब्सिडी (subsidy) प्राप्त करने के लिए पावर चालित मशीन खरीदने के लिए 8 से 9 पशुपालकों के समूह के पास कम से कम पांच दुधारू पशु होना आवश्यक है।

Subsidy on Kutti Machine पावर चालित कुट्टी मशीन के लिए आवेदन हेतु आवश्यक दस्तावेज

Subsidy on Kutti Machine :  पावर चालित कुट्टी मशीन पर सब्सिडी के लिए आवेदन करते समय आपको निम्नलिखित दस्तावेजों की आवश्यकता होगी

  1. आधार कार्ड : आवेदन करने वाले व्यक्ति का आधार कार्ड।
  2. आय प्रमाण-पत्र : आवेदक का आय प्रमाण-पत्र।
  3. बैंक खाते का विवरण : आवेदक के बैंक खाते का विवरण जिसमें खाता संख्या और आईएफएससी कोड शामिल हो।
  4. कुट्टी मशीन का बिल : कुट्टी मशीन का खरीद बिल।
  5. निवास प्रमाण पत्र : आवेदक का निवास प्रमाण पत्र।
  6. पासपोर्ट साइज फोटो : आवेदक का पासपोर्ट साइज फोटो।
  7. पशुओं के बीमा संबंधी कागजात : पशुओं के बीमा से संबंधित दस्तावेज।
  8. जमीन से संबंधित दस्तावेज : पशुपालक किसान की जमीन से संबंधित दस्तावेज।
  9. आधार से लिंक मोबाइल नंबर : आवेदक का आधार से लिंक मोबाइल नंबर।

Subsidy on Kutti Machine पावर चालित कुट्टी मशीन पर सब्सिडी के लिए कहां करना होगा आवेदन

पावर चालित कुट्टी मशीन पर सब्सिडी के लिए आवेदन करने के लिए आप निम्नलिखित स्थानों पर संपर्क कर सकते हैं :

  1. कृषि विभाग : – अपने जिले के कृषि विभाग कार्यालय में संपर्क करें। वे आपको आवेदन प्रक्रिया और आवश्यक दस्तावेजों की जानकारी देंगे।
  2. कृषि विकास अधिकारी :-  अपने क्षेत्र के कृषि विकास अधिकारी (Agriculture Development Officer) से मिलें। वे आपको सब्सिडी के लाभ और आवेदन प्रक्रिया के बारे में विस्तृत जानकारी प्रदान करेंगे।
  3. कृषि विज्ञान केंद्र (KVK) :- अपने नजदीकी कृषि विज्ञान केंद्र में जाकर जानकारी प्राप्त कर सकते हैं। KVK के विशेषज्ञ आपको आवेदन प्रक्रिया और सब्सिडी से संबंधित जानकारी प्रदान करेंगे।
  4. सहकारी समितियां :- स्थानीय सहकारी समितियों से भी जानकारी प्राप्त कर सकते हैं क्योंकि कई बार ये संस्थाएं भी किसानों को सब्सिडी प्राप्त करने में मदद करती हैं।
  5. ऑनलाइन पोर्टल्स :- सरकार के द्वारा प्रदान किए गए विभिन्न कृषि पोर्टल्स पर जाकर भी आप आवेदन कर सकते हैं। उदाहरण के लिए प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना PM-KISAN पोर्टल आदि ।

Subsidy on Kutti Machine पावर चालित कुट्टी मशीन योजना से मिलने वाले लाभ और विशेषताएँ  –

पावर चालित कुट्टी मशीन पर सब्सिडी लेने के कई लाभ और विशेषताएं हैं जो इस प्रकार हैं:

लाभ :- 

  1. कम लागत पर उच्च उत्पादकता :-  सब्सिडी मिलने पर मशीन की लागत कम हो जाती है जिससे किसान इसे आसानी से खरीद सकते हैं और अधिक चारे की कटाई कर सकते हैं।
  2. उपज की गुणवत्ता में सुधार :-  पावर चालित कुट्टी मशीन से चारे की कटाई तेजी और समान रूप से होती ह, जिससे चारे की गुणवत्ता बेहतर होती है।
  3. श्रम की बचत :-  मशीन का उपयोग करने से श्रमशक्ति की आवश्यकता कम हो जाती है जिससे समय और श्रम की बचत होती है।
  4. प्राकृतिक संसाधनों का समुचित उपयोग :-  मशीन का सही तरीके से उपयोग करने से प्राकृतिक संसाधनों का बेहतर उपयोग होता है और अनाज की बर्बादी कम होती है।
  5. आय में वृद्धि :- बेहतर और गुणवत्ता युक्त चारे के उत्पादन से किसानों की आय में वृद्धि होती है क्योंकि वे अधिक और बेहतर उत्पाद बेच सकते हैं।
  6. सरकारी सहायता :-  सब्सिडी के रूप में मिलने वाली सरकारी सहायता से किसानों को वित्तीय राहत मिलती है जिससे वे अन्य कृषि गतिविधियों में निवेश कर सकते हैं।

विशेषताएं :-

  1. उच्च दक्षता :-  पावर चालित कुट्टी मशीनें उच्च दक्षता के साथ काम करती हैं, जिससे चारे की कटाई तेज और समान होती है।
  2. समय की बचत :-  यह मशीनें पारंपरिक कुट्टी मशीनों की तुलना में बहुत कम समय में अधिक चारा काट सकती हैं।
  3. कम ऊर्जा खपत :- आधुनिक पावर चालित कुट्टी मशीनें कम ऊर्जा खपत करती हैं जिससे बिजली की बचत होती है।
  4. आसान संचालन :- इन मशीनों का डिजाइन ऐसा होता है कि वे आसानी से संचालित की जा सकती हैं जिससे किसानों को किसी विशेष प्रशिक्षण की आवश्यकता नहीं होती।
  5. सुरक्षा :-  इन मशीनों में सुरक्षा मानकों का ध्यान रखा गया होता है जिससे दुर्घटनाओं का खतरा कम होता है।
  6. मोबाइल और पोर्टेबल :-  कई पावर चालित कुट्टी मशीनें पोर्टेबल होती हैं जिन्हें आसानी से एक स्थान से दूसरे स्थान पर ले जाया जा सकता है।

निष्कर्ष :-

पावर चालित कुट्टी मशीन पर सब्सिडी प्राप्त करने से किसानों को वित्तीय और तकनीकी दोनों तरह से लाभ मिलता है। यह न केवल उनकी उत्पादन क्षमता को बढ़ाती है बल्कि समय और श्रम की भी बचत करती है जिससे उनकी आय में वृद्धि होती है और वे कृषि कार्यों में अधिक सक्षम हो पाते हैं।

FAQ’S

हाथ से चारा काटने वाली मशीन की कीमत क्या है ?

हाथ से चारा काटने वाली मशीन की कीमत आमतौर पर ₹5,000 से ₹15,000 के बीच होती है। कीमत मशीन के ब्रांड, गुणवत्ता और विशेषताओं के आधार पर भिन्न हो सकती है।

लकड़ी काटने वाली मशीन का रेट क्या है ?

लकड़ी काटने वाली मशीन की कीमत ₹5,000 से ₹50,000 तक हो सकती है मशीन के प्रकार और ब्रांड के आधार पर।

कुट्टी मशीन क्या है ?

कुट्टी मशीन एक कृषि उपकरण है जिसका उपयोग पशुओं के चारे (घास, भूसा आदि) को छोटे टुकड़ों में काटने के लिए किया जाता है। इसे आमतौर पर पशु आहार की तैयारी में इस्तेमाल किया जाता है जिससे पशु आसानी से चारा खा सकें।

सारांश (Summay)

तो दोस्तों, हमने आपको इस आर्टिकल के माध्यम से (Subsidy on Kutti Machine : पावर चलित कुट्टी मशीन पर 50% सब्सिडी, जानें कैसे प्राप्त करें लाभकी सभी जानकारी को विस्तार पूर्वक बता दिया है। यदि आपको जानकारी पसंद आई हो तो आप हमें मैसेज करके बता सकते हैं और इसके अलावा यदि आपको कोई भी समस्या या योजना से जुड़े सवालों के जवाब जानने हैं तो आप हमें कमेंट बॉक्स में कमेंट करके बता सकते हैं। हमारी टीम आपके सभी सवालों का जवाब देने की कोशिश जरूर करेगी।

ध्यान दें :– ऐसे ही केंद्र सरकार और राज्य सरकार के द्वारा शुरू की गई नई या पुरानी सरकारी योजनाओं की जानकारी हम सबसे पहले अपने इस वेबसाइट सरकारी योजनाये के माध्यम से देते हैं तो आप हमारे वेबसाइट को फॉलो करना ना भूलें ।

अगर आपको हमारा यह आर्टिकल पसंद आया है तो इसे Like और Share जरूर करें ।

इस आर्टिकल को अंत तक पढ़ने के लिए धन्यवाद

Leave a Reply