PM KISAN MAN DHAN YOJNA – प्रधानमंत्री किसान मान-धन योजना (पीएम-केएमवाई)

PM KISAN MAN DHAN YOJNA प्रधानमंत्री किसान मान-धन योजना
PM KISAN MAN DHAN YOJNA प्रधानमंत्री किसान मान-धन योजना
Contents hide

PM KISAN MAN DHAN YOJNA प्रधानमंत्री किसान मान-धन योजना – ऑनलाइन पंजीकरण, पात्रता लाभ और उद्देश्य –

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने झारखंड के रांची में PM KISAN MAN DHAN YOJNA प्रधानमंत्री किसान मान-धन योजना की शुरुआत की। यह योजना केंद्र सरकार के कृषि विभाग द्वारा भारतीय जीवन बीमा निगम (एलआईसी) के साथ सहयोग के तहत प्रबंधित की जाएगी। एलआईसी पीएम किसान मान-धन योजना के अंतर्गत पेंशन फंड को संभालेगा,  जिससे छोटे और सीमांत किसानों को 60 वर्ष की आयु के बाद मासिक पेंशन की व्यवस्था की जाएगी।

इस योजना के अन्तर्गत जिन किसानों के पास 2 हेक्टेयर तक खेती के योग्य भूमि है उन्हें मासिक 3000 रुपये की पेंशन प्राप्त होगी। इस योजना का मुख्य उद्देश्य भारत में छोटे और सीमांत किसानों के जीवन को सुरक्षित करना है। यह योजना प्रधानमंत्री श्रम योगी मान-धन योजना से अलग है  जिसका विवरण इस लेख में उपलब्ध है।

प्रधानमंत्री किसान मान-धन योजना के मुख्य बिंदुओं को निम्नलिखित तालिका में दर्शाया गया है :

विषय विवरण
योजना का नाम प्रधानमंत्री किसान मान-धन योजना
शुरूआत कहा से हुई झारखंड, रांची
योजना प्रकार सरकारी योजना
संबंधित विभाग कृषि विभाग, किसान कल्याण मंत्रालय
उद्देश्य छोटे और सीमांत किसानों की सुरक्षा करना
साझेदार भारतीय जीवन बीमा निगम (एलआईसी)

भारतीय अर्थव्यवस्था के परीक्षण के लिए प्रधानमंत्री किसान मान-धन योजना एक महत्वपूर्ण विषय है।

PM KISAN MAN DHAN YOJNA – प्रधानमंत्री किसान मान धन योजना का उद्देश्य :-               

PM KISAN MAN DHAN YOJNA – प्रधानमंत्री किसान मान-धन योजना (पीएमकेएमवाई) का मुख्य उद्देश्य है कि पेंशन के माध्यम से छोटे और सीमांत किसानों (एसएमएफ) को सामाजिक सुरक्षा प्रदान किया जाए,क्योंकि उनके पास बुढ़ापे के दौरान अपनी आजीविका बनाए रखने और उन्हें समर्थन देने के लिए कोई नियमित बचत नहीं होती। इससे उनकी आजीविका में कमी होती है ।

इस योजना के अंतर्गत पात्र छोटे और सीमांत किसानों को 60 वर्ष की आयु प्राप्त करने पर  3000 रुपये प्रति माह की न्यूनतम निश्चित पेंशन प्रदान की जाएगी। यह योजना एक स्वैच्छिक और अंशदायी पेंशन योजना है जिसमें प्रवेश की आयु 18 से 40 वर्ष है। लाभार्थी को 29 वर्ष की औसत प्रवेश आयु पर प्रति माह 100 रुपये का योगदान करना होगा। केंद्र सरकार भी पेंशन फंड में समान राशि का योगदान करेगी।

PM KISAN MAN DHAN YOJNA – प्रधानमंत्री किसान मानधन योजना (पीएमकेएमवाई) का प्रमोचन

इस योजना के अंतर्गत किसानों को कम से कम 20 साल और अधिकतम 42 साल की उम्र के बीच 55 रुपये से 200 रुपये तक की मासिक अंशदान करना होगा जो उनकी आयु पर निर्भर होगा। यह योजना उन किसानों को 60 साल की उम्र के बाद 3 हजार रुपये मासिक पेंशन प्रदान करेगी।

PM KISAN MAN DHAN YOJNA का लाभ कैसे उठाएं ?

प्रधानमंत्री श्रम योगी मानधन पेंशन योजना का लाभ लेने के लिए सबसे पहले आपको कॉमन सर्विस सेंटर (CSC) सेंटर पर जाना होगा। यहां आपको अपने आधार कार्ड और बचत खाता या जनधन खाता की जानकारी देनी होगी। आपको खाता खोलते समय ही नॉमिनी का नाम भी दर्ज कराना होगा ताकि यदि आपके साथ कुछ गलत  हो जाता है तो आपके परिजन या कोई और नामांकित व्यक्ति को इस योजना के लाभ मिल सकें।

इसके बाद आपकी जानकारी के सत्यापन के लिए पासबुक, चेक बुक या बैंक स्टेटमेंट की आवश्यकता हो सकती है। इसके बाद जब आपका दिया हुआ  खाता सत्यापित हो जाता है तो आपके द्वारा निर्दिष्ट मासिक योगदान की संख्या पर निर्भर करता है कि आपको मासिक पेंशन का लाभ कितना मिलेगा।

इस योजना के अंतर्गत कम से कम 20 साल की आयु और अधिकतम 42 साल की आयु के बीच किसानों को 55 रुपये से लेकर 200 रुपये तक का मासिक योगदान करना होता है। और जब वे 60 साल की आयु के हो जाते हैं तो उन्हें 3 हजार रुपये मासिक पेंशन प्राप्त होती है। इस पेंशन योजना के लाभार्थियों को अपनी आयु के अनुसार निश्चित राशि में मासिक पेंशन प्राप्त होती है जो उन्हें बुढ़ापे में सामाजिक सुरक्षा प्रदान करती है।

PM KISAN MAN DHAN YOJNA के लिए कौन पात्र है ?

प्रधानमंत्री श्रम योगी मानधन पेंशन योजना का लाभ उन व्यक्तियों को मिलता है जो निम्नलिखित मापदंडों को पूरा करते हैं। पहले तो व्यक्ति की आयु 18 से 40 वर्ष के बीच होनी चाहिए। दूसरे उनकी मासिक आय 15,000 रुपये से कम होनी चाहिए।

यह योजना उन लोगों के लिए है जिनका नियमित सरकारी या गैर सरकारी नौकरी में कोई पेंशन कवर नहीं किया जाता है। इसलिए जो व्यक्ति कर्मचारी भविष्य निधि संगठन (ईपीएफओ), कर्मचारी राज्य बीमा निगम (ईएसआईसी), या राष्ट्रीय पेंशन प्रणाली (एनपीएस) के तहत कवर नहीं हैं वे मानधन योजना के लिए पात्र हो सकते हैं।

इस योजना के तहत योगदान करने के लिए व्यक्ति को अपनी मासिक योगदान दर को भुगतान करना होता है, जो उनकी आयु और आय के आधार पर निर्भर करता है। इसके अलावा वे आधिकारिक तौर पर स्वीकृत योगदान के लिए अपने खाते में नियमित भुगतान करने के लिए संपर्क कर सकते हैं। इस योजना से लाभान्वित होने के लिए व्यक्तियों को इसके प्रमुख मापदंडों को ध्यान में रखकर अपनी पात्रता की जांच करनी चाहिए।

PM KISAN MAN DHAN YOJNA प्रधानमंत्री किसान मान-धन योजना
PM KISAN MAN DHAN YOJNA प्रधानमंत्री किसान मान-धन योजना

PM KISAN MAN DHAN YOJNA की स्थिति कैसे जांचें – 

यह जानने के लिए पहले आपको अपने निकटतम सीएससी सेंटर जाना होगा। वहां आपको अपने आधार कार्ड और बैंक का खाता नंबर दर्ज करके इस योजना में पंजीकरण करना होगा। पहला भुगतान आपको कैश में देना होगा और उसके बाद आपको अपने खाते से ऑटो डेबिट मेनडेट कराना होगा  जिससे आपके खाते से नियमित भुगतान होता रहेगा।

इसके अलावा आप निरंतर अपने खाते में योगदान का स्थिति जांच सकते हैं और किसी भी समस्या की स्थिति को समझने के लिए बैंक से  संपर्क कर सकते हैं। इस योजना का लाभ उठाने के लिए सभी प्रक्रियाओं को सही तरीके से पूरा करना महत्वपूर्ण है, ताकि आपको योजना के लाभ सही समय पर मिल सकें।

PM KISAN MAN DHAN YOJNA के लिए योग्य नहीं हैं निम्नलिखित किसान

 निम्नलिखित किसानों के वर्ग अपरिवर्तितता मानदंड के अंतर्गत आते हैं :

  • किसी अन्य कानूनी सामाजिक सुरक्षा योजना जैसे राष्ट्रीय पेंशन योजना (NPS), कर्मचारी राज्य बीमा निगम योजना, कर्मचारी कोष संगठन योजना आदि के अंतर्गत शामिल लघु कृषक
  • जिन किसानों ने काम और रोजगार मंत्रालय द्वारा प्रबंधित प्रधानमंत्री श्रम योगी मानधन योजना (PM-SYM) का चयन किया है
  • जिन किसानों ने काम और रोजगार मंत्रालय द्वारा प्रबंधित प्रधानमंत्री लघु व्यापारी मानधन योजना (PM-LVM) का चयन किया है।

इसके अतिरिक्त निम्नलिखित वर्गों के  लाभार्थियों को योजना के अंतर्गत लाभ नहीं मिलेगा :

  • सभी संस्थागत भूमि के धारक
  • संवैधानिक पदों के पूर्व और वर्तमान धारक
  • पूर्व और वर्तमान मंत्रियों/ राज्य मंत्रियों और पूर्व/वर्तमान लोक सभा/राज्य सभा/राज्य विधान सभाओं/राज्य विधान परिषदों के सदस्यों, पूर्व और वर्तमान नगर निगमों के मेयर, पूर्व और वर्तमान जिला पंचायतों के अध्यक्ष
  • केंद्रीय/राज्य सरकार के मंत्रालयों/कार्यालयों/विभागों और उनकी क्षेत्रीय इकाइयों, केंद्रीय या राज्यीय प्राधिकरणों और सरकार के अटैच्ड कार्यालयों/स्वायत्त संस्थानों के अधीन स्थित और नियमित कर्मचारियों के अधीन कार्य करने वाले सभी अधिकारी और कर्मचारी, स्थानीय निकायों के नियमित कर्मचारी (बहुकार्य कर्मचारी/कक्षा IV/ग्रुप डी कर्मचारी छोड़कर)
  • पिछले मूल्यांकन वर्ष में आयकर भुगतान किया गया किसी भी व्यक्ति।
  • पेशेवर जैसे कि डॉक्टर, इंजीनियर, वकील, चार्टर्ड एकाउंटेंट्स, और पेशेवर बॉडीज़ के साथ पंजीकृत और व्यावसायिक कार्य निर्वाह करने वाले व्यक्तियों।

ऑनलाइन भी करा सकते हैं अप्लाई

अब आप आसानी से किसान मानधन योजना का लाभ उठा सकते हैं ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन के माध्यम से। इसके लिए आपको सिर्फ मानधन आधिकारिक वेबसाइट maandhan.in पर जाना होगा और वहां आवश्यक जानकारी भरकर रजिस्ट्रेशन प्रक्रिया पूरी करनी होगी। यह रजिस्ट्रेशन समाप्त होने के बाद आपको योजना के लाभ का अधिकार होगा। इस तरह आप घर बैठे आसानी से अपने भविष्य की योजना बना सकते हैं और किसान मानधन योजना के तहत लाभान्वित हो सकते हैं।

यह एक सरल और अत्यंत प्रभावी तरीका है जिससे किसानों को सुरक्षा और आर्थिक सहायता प्राप्त करने में मदद मिलती है। अब आपके पास किसान मानधन योजना के लिए ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन करवाने का सुनहरा मौका है जो आपकी आर्थिक स्थिति को मजबूत करने में मदद कर सकता है।

इस योजना से किसानों का बुढ़ापा होगा सुरक्षित :- 

किसान यह योजना का लाभ 60 वर्ष की आयु के बाद प्राप्त कर सकेंगे। यह योजना उन बुजुर्ग किसानों को एक पेंशन के रूप में दी जाएगी जिनकी आर्थिक स्थिति कमजोर हो गई है। हर महीने किसानों के खाते में तीन हजार रुपये की राशि जमा की जाएगी जो उनकी आर्थिक सुरक्षा को सुनिश्चित करने में मदद करेगी।

यह योजना किसानों के लिए एक महत्वपूर्ण स्तंभ है जो उन्हें उनके बुजुर्ग दिनों में सार्थक समर्थन प्रदान करेगी और उनकी आर्थिक स्थिति को सुधारेगी। इस योजना के माध्यम से सरकार किसानों की आवश्यकताओं को समझती है और उनकी सामाजिक सुरक्षा को सुनिश्चित करने के लिए प्रयासरत है। इससे किसानों को समृद्धि की दिशा में एक मजबूत कदम बढ़ाया जा रहा है।

सारांश (Summay)

तो दोस्तों, हमने आपको इस आर्टिकल के माध्यम से बताया कि कैसे आप PM KISAN MAN DHAN YOJNA – प्रधानमंत्री किसान मान धन योजना की सभी जानकारी को विस्तार पूर्वक बता दिया है। यदि आपको जानकारी पसंद आई हो तो आप हमें मैसेज करके बता सकते हैं और इसके अलावा यदि आपको कोई भी समस्या या योजना से जुड़े सवालों के जवाब जानने हैं तो आप हमें कमेंट बॉक्स में कमेंट करके बता सकते हैं। हमारी टीम आपके सभी सवालों का जवाब देने की कोशिश जरूर करेगी।

ध्यान दें :– ऐसे ही केंद्र सरकार और राज्य सरकार के द्वारा शुरू की गई नई या पुरानी सरकारी योजनाओं की जानकारी हम सबसे पहले अपने इस वेबसाइट सरकारी योजनाये के माध्यम से देते हैं तो आप हमारे वेबसाइट को फॉलो करना ना भूलें ।

अगर आपको हमारा यह आर्टिकल पसंद आया है तो इसे Like और Share जरूर करें ।

इस आर्टिकल को अंत तक पढ़ने के लिए धन्यवाद

Posted By – Surendra Jain

FAQ’s

प्रधानमंत्री किसान मान धन योजना कब शुरू हुई

प्रधानमंत्री किसान मान धन योजना” का शुभारंभ 24 फरवरी 2019 को हुआ था। इस योजना के तहत किसानों को वित्तीय सहायता प्रदान की जाती है ताकि उनकी आर्थिक स्थिति मजबूत हो सके।

प्रधानमंत्री किसान मान धन योजना का लाभ कौन ले सकता है

“प्रधानमंत्री किसान मान धन योजना” का लाभ वे सभी भारतीय किसान ले सकते हैं जो योजना की पात्रता मानदंडों को पूरा करते हैं। इस योजना का मुख्य उद्देश्य किसानों को वित्तीय सहायता प्रदान करना है ताकि उनकी आर्थिक स्थिति मजबूत हो सके और वे वृद्धावस्था में अपने जीवन को  बेहतर ढंग से संचालित कर सकें। इस योजना के तहत किसानों को सीधे नकद लाभ भी प्रदान किया जाता है ताकि उन्हें अपनी आर्थिक समस्याओं का सामना करने में मदद मिल सके।

प्रधानमंत्री किसान मान धन योजना के तहत कहाँ करना होगा अप्लाई

प्रधानमंत्री किसान मान धन योजना” के तहत आवेदन करने के लिए आमतौर पर गाँव के समीप आधिकारिक निधि संगठन (Common Service Centre – CSC) या जिला कृषि कार्यालय में जाना होता है। यहाँ पर किसानों को योजना के बारे में सम्पूर्ण जानकारी प्राप्त होती है और वे आवेदन प्रक्रिया के लिए आवश्यक दस्तावेज जमा कर सकते हैं। आवेदन प्रक्रिया के लिए सम्बंधित सरकारी वेबसाइटों पर भी जानकारी उपलब्ध है।

Leave a Reply